जबलपुरमध्य प्रदेशराज्य

JABALPUR NEWS: गेहूं खरीदी की धीमी चाल, वेयर हाउस खाली, साइलो खोलने की तैयारी

किस तरह का गेहूं खरीदना है तय नहीं कर पा रहे अधिकारी

जबलपुर, यशभारत। गेहूं खरीदी को लेकर एक बार फिर विसंगति सामने आई है। गेहूं खरीदी की धीमी चाल से जहां प्रशासनिक अधिकारी परेशान है तो वहीं गेहूं गुणवत्ता को लेकर किसान अपना माथा पटक रहा है। हालांकि प्रशासन ने गेहूं खरीदी की रफ्तार बढ़ाने के लिए एक प्रयास जरूर किया है वो कितना सफल होगा यह आने वाला वक्त ही बताएगा। दरअसल जिन क्षेत्रों में गेहूं खरीदी कम हो रही है वहां साइलो खोलने का निर्णय लिया गया है। सवाल उठता है कि जब वेयर हाऊस जब खाली है तो फिर ऐसे में साइलो बैग कहां से भरे जाएंगे। दूसरी तरफ जिला विपणन विभाग और जिला वेयर हाऊस काॅर्पेंरेशन तय नहीं कर पा रहा है कि किस तरह का गेहूं खरीदना है।

हजारों क्विंटल गेहूं खुले में पड़ा
गेहूं खरीदी तेजी से हो इसके प्रयास नाकाफी है जिसका प्रत्यक्ष उदाहरण खरीदी केंद्र है जहां पर हजारों क्विंटल गेहूं खुले में पड़ा है। एक सोसायटी ने नाम न छापने की शर्त में बताया कि कई ट्राली गेहूं वापस भेज दिया गया है, क्योंकि मौखिक रूप से कहा जा रहा है कि नान एफक्यू गेहूं खरीद लिया जाए परंतु इसके अधिकारिक आदेश जारी नहीं किए गए हैं।

साइलों को दी छूट तो वेयर हाऊस को क्यों नहीं
गेहूं खरीदी में पूरी तरह से भ्रष्टाचार करने का खेल शुरू कर दिया गया है। जिसकी शुरूआत भी हो चुकी है। चर्चा है कि साइलो बैग को किसी भी तरह का गेहूं खरीदने की छूट दी गई लेकिन सवाल ये है कि यही छूट वेयर हाऊस मालिकों को भी दी जाती तो आज गेहूं खरीदी की रफ्तार कुछ और होती।

किसान परेशान, गेहूं लेकर लौट रहे हैं
किसानों ने बताया कि इस बार की गेहूं खरीदी को लेकर परेशान हो चुके हैं। क्योंकि अधिकारी तय नहीं कर पा रहे हैं कैसा गेहूं खरीदा जाना है। रोजाना ,खरीदी केंद्र गेहूं लेकर पहंुच रहे हैं परंतु वहां से सर्वेयर यह कहकर भगा देते हैं है कि आपका गेहूं नान एफक्यू है।

सर्वेयरों को मिल रही धमकी
सू़़़त्रों का कहना है कि अधिकारियों द्वारा सर्वेयरों को धमकी दी जा रही है उनसे कहा जा रहा है कि एफएक्यू क्वालिटी का ही गेहूं खरीदा जाए। जबकि प्रशासनिक बैठकों में अधिकारियों द्वारा मौखिक आदेश जारी किए जा रहे हैं कि नान एफएक्यू गेहूं खरीदा जाए। सर्वेंयर डरे-सहमे हुए हैं उनका कहना है कि किसकी बात मानें और किसकी नहीं है।

 

WhatsApp Image 2024 04 23 at 15.39.48

जिला उपार्जन समिति ने साइलो बैग स्थापित करने का लिया निर्णय
कलेक्टरदीपक सक्सेना की अध्यक्षता में आज जिला उपार्जन समिति को बैठक आयोजित की गई। जिसमे समिति ने उपार्जन व्यवस्थाओं के संबंध में चर्चा कर निर्णय लिया कि, जिले में जहां गेंहू की कम खरीदी हो रही है, वहां एक साइलो बैग स्थापित कर गेंहू उपार्जन किया जाए।जिससे किसानों की सुविधा हो जाए और गेहूं भी आ जाए। इस दौरान कहा गया कि गेंहू को नॉन एफएक्यू बताकर सीधे तौर पर वापस न करे। नॉन एफएक्यू गेहूं को अपग्रेड कर उसे एफएक्यू करें। कलेक्टर श्री सक्सेना ने गेंहू की गुणवत्ता को लेकर सर्वेयर के साथ बैठक करने के निर्देश भी संबंधित को दिए। उपार्जन व्यवस्था में किसानों को शीघ्र उनकी फसल का दाम मिले, इस दिशा में जिला प्रशासन लगातार प्रयासरत है और अभी तक 1891 किसानों को 30 करोड़ रुपए की राशि का भुगतान किया जा चुका है।

1/5 - (1 vote)

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button