बिज़नेस

RBI आरबीआई रेपो रेट में बढ़ोतरी अब लंबी अवधि की एफडी ब्याज दरें अभी चरम पर अभी करे निवेश जाने डिटेल्स

RBI आरबीआई रेपो रेट में बढ़ोतरी अब लंबी अवधि की एफडी ब्याज दरें अभी चरम पर अभी करे निवेश जाने डिटेल्स। हमारे देश में इस बार हो रहे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के द्वारा मॉनिटरी पॉलिसी कंट्रोल बैठक में लोग रेपो रेट में होने वाले बदलाव को लेकर बहुत ही व्याकुल थे। जो हमारे देश में रिपोर्ट आई कि महंगाई दर कम हो रही है। जिसके फलस्वरुप रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने अपने रेपो रेट बैठक में रेपो रेट को और नहीं बढ़ाया।



RBI आरबीआई रेपो रेट में बढ़ोतरी अब लंबी अवधि की एफडी ब्याज दरें अभी चरम पर अभी करे निवेश जाने डिटेल्स

pic 77
RBI आरबीआई रेपो रेट में बढ़ोतरी अब लंबी अवधि की एफडी ब्याज दरें अभी चरम पर अभी करे निवेश जाने डिटेल्स

हमारे देश में हर जगह आंकड़ों में महंगाई कम हो चुकी है। भले ही जनता को पेट्रोल और डीजल ₹100 से ऊपर के भाव में लेने पड़ सकते है। अब ये लोगों के खाली से जरूरी सब्जी और दाल गायब हो चुके हैं लेकिन महंगाई आंकड़ों में घट रही हैं।


अब हमारे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के द्वारा रेपो रेट में किसी भी प्रकार के बदलाव न करने की वजह से थोड़े टाइम  के लिए एक सकारात्मक सेंटीमेंट आया लेकिन असलियत में जिसका उल्टा असर देखने को मिल रहा है। ओवरनाइट इंडेक्स स्वैप (OIS) रेट जिसके बदौलत रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया अपने पॉलिसी दरों पर कार्य करता है वह पिछले 8 दिनों में बहुत ही तेजी से बड़े हैं।


RBI आरबीआई रेपो रेट में बढ़ोतरी अब लंबी अवधि की एफडी ब्याज दरें अभी चरम पर अभी करे निवेश जाने डिटेल्स

e43069bb 717f 4a4a bf1f 52af6ff8a68c
RBI आरबीआई रेपो रेट में बढ़ोतरी अब लंबी अवधि की एफडी ब्याज दरें अभी चरम पर अभी करे निवेश जाने डिटेल्स

अमेरिकी फेडरल रिजर्व और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया को अब यह दोबारा से ब्याज दरों पर सोचने को मजबूर कर रहा है। भविष्य में सुझाव यह आ रहे हैं कि ब्याज दरें भविष्य के रेपो रेट बैठकों के बाद घटने के विकल्प कम बचेंगे।

अब यहां के आगामी दिनों में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के द्वारा रेपो रेट में या तो बहुत से बदलाव नहीं किया जाएगा या फिर अगर बदलाव किया भी जाएगा तो हो सकता है। जो कि दोबारा से रेपो रेट बढ़ाया जाए ताकि असलियत में महंगाई थोड़ी और नीचे आए।



अगर अभी भी ऐसा होता है। तो ये फिक्स डिपाजिट ब्याज दरों के ऊपर अभी चल रहा स्वर्णिम टाइम थोड़ा और टाइम के लिए जारी रहेगा और यह भी हो सकता है कि बचत करके पैसों को संरक्षित रखने वाले लोग और ज्यादा ब्याज दरों का फायदा ले पाए। अब ये दूसरा समस्या या होगा की ब्याज दरें अगर बढ़ती है तो लोन की ईएमआई बढ़ेंगे जिसके वजह से अतिरिक्त  वहन जनता के द्वारा करना पड़ेगा।

यह भी पढ़े 

RBI आरबीआई रेपो रेट में बढ़ोतरी अब लंबी अवधि की एफडी ब्याज दरें अभी चरम पर अभी करे निवेश जाने डिटेल्स
Rate this post

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button