इंदौरग्वालियरजबलपुरदेशभोपालमध्य प्रदेशराज्य

अमरनाथ यात्रा आज से शुरू: पहलगाम से रवाना हुआ श्रद्धालुओं का पहला जत्था, बाबा बर्फानी 19 अगस्त तक 6 लाख भक्तों को देंगे दर्शन

जम्मू-कश्मीर में श्रीअमरनाथ धाम की पवित्र गुफा के दर्शन के लिए सालाना यात्रा शनिवार (29 जून) से शुरू हो गई। 52 दिनों की यह यात्रा 19 अगस्त को खत्म होगी। आज पहलगाम से बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए 4603 श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवाना हुआ। जम्मू-कश्मीर स्थित प्रसिद्ध अमरनाथ गुफा से 22 जून को बाबा बर्फानी की पहली तस्वीर सामने आई थी। गुफा में प्राकृतिक रूप से बर्फ का शिवलिंग बनकर तैयार हुआ है।

 

पिछले शनिवार को बाबा बर्फानी की प्रथम पूजा की गई, जिसमें जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल (LG) मनोज सिन्हा भी राजभवन से वर्चुअली जुड़े थे। बता दें पवित्र अमरनाथ गुफा में राज्यपाल/उपराज्यपाल द्वारा शिवलिंग की प्रथम पूजा की परंपरा रही है।

 

 

अमरनाथ यात्रा के लिए बोर्ड के खास इंतजाम

  • श्रीअमरनाथ धाम की पवित्र गुफा के दर्शन के लिए श्राइन बोर्ड ने यात्रा के लिए विशेष इंतजाम किए हैं। अमरनाथ यात्रा में शामिल होने के लिए श्रद्धालु बैंक, वेबसाइट, एप्लीकेशन या अमरनाथ पहुंचकर रजिस्ट्रेशन के ऑप्शन हैं। इस बार की अमरनाथ यात्रियों को खास सुविधाएं मिलेंगी।
  • श्राइन बोर्ड ने श्रद्धालुओं के लिए पहली बार दोनों रास्तों पर 5G नेटवर्क की सुविधा शुरू की है। इसके लिए इन रास्तों पर 10 मोबाइल टॉवर लगाए जाएंगे, ताकि लोगों को ज्यादा परेशानी न हो। साथ ही 24 घंटे बिजली के लिए भी खास इंतजाम हैं।

यात्रियों के खाने का भी विशेष इंतजाम होगा

  • पवित्र अमरनाथ गुफा के मार्ग पर चौड़ी सड़कों और 5G नेटवर्क के साथ-साथ यात्रियों को खाने और सेहत पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। रास्तों से बर्फ हटाकर रास्ते क्लियर किए गए हैं। भक्त आराम से बाबा बर्फानी के दर्शन कर पाएंगे। सड़कें 14 फीट तक चौड़ी की गई हैं, जिनकी चौड़ाई पहले सिर्फ 3 से 4 फीट थी।
  • अमरनाथ यात्रा करने वाले सभी श्रद्धालुओं को 5 लाख रुपए का बीमा कवर दिया जाएगा। तीर्थयात्रियों को ले जाने वाले प्रत्येक जानवर के लिए 50,000 रुपए का बीमा कवर भी होगा।

इस साल 6 लाख भोले भक्तों के पहुंचने का अनुमान
अमरनाथ जाने वाले यात्रियों की बात करें तो 2023 में करीब 4.50 लाख श्रद्धालु बाबा बर्फानी के दर्शन करने पहुंचे थे। मौसम के मुताबिक, इस बार 2024 में देर से बर्फ़बारी शुरू हुई थी, जो अब तक जारी है। श्रीअमरनाथ श्राइन बोर्ड ने 2024 में 6 लाख श्रद्धालुओं के लिए विशेष व्यवस्था की है।

3.5/5 - (2 votes)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button