जबलपुरमध्य प्रदेशराज्य

युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने की विधायक पाठशाला से हुई थी शुरुआत, अब रोज़गार देकर मेरा सपना होगा पूरा : तरुण भनोत

पूर्व वित्त मंत्री द्वारा आगामी 12-13 अप्रैल को युवाओं के रोज़गार के अवसर प्रदान करने किया जा रहा कैरीयर अवसर मेला का आयोजन
जैसा कि आप सभी को विदित है कि आज देश में सर्वाधिक पढ़े-लिखे नौजवान योग्य रोज़गार के लिए भटक रहे है । हर वर्ष 2 करोड़ युवाओं को रोज़गार देने का वायदा कर सत्ता पर काबिज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के शासन में आज देश बेरोज़गारी के पिछले 45 वर्षों में सर्वाधिक है । आज केंद्र सरकार के अंतर्गत विभिन्न विभागों में 10 लाख के आसपास पदों की वेकन्सी रिक्त है । हर साल हज़ारों-लाखों की संख्या में विभिन्न विभागों से लोग रिटायर हो रहे है, लेकिन उन रिक्त पदों पर भर्ती नही किए जाने के कारण एक तरफ़ जहां उन पदों के लिए तैयारी कर बेरोज़गार युवाओं को निराशा हाथ लग रही है वही पदों की रिक्तता के कारण विभागों में वर्क एफिशिएंसी प्रभावित हो रही है और लगातार काम का बोझ दूसरे कर्मचारियों पर बढ़ता जा रहा है । उक्त आरोप प्रदेश सरकार में पूर्व वित्त मंत्री एवं जबलपुर पश्चिम से विधायक श्री तरुण भनोत ने केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार पर लगाया है ।
श्री भनोत ने बताया कि ग़रीब और मध्यम परिवार के एक भी सदस्य को योग्य रोज़गार मिल जायें तो उस परिवार और पीढ़ी की तक़दीर बदल जाती है । यह सरकार की नैतिक ज़िम्मेदारी है कि समय के हिसाब से ऐसे संसाधनों को खड़ा करें ताकि शिक्षित और योग्य नौजवान को उसके योग्यता और शिक्षा के आधार पर उचित रोज़गार मुहैया कराई जा सके । सरकार इस ज़िम्मेदारी से पल्ला नही झाड़ सकती कि सभी को रोज़गार देना उसका काम नही है । यदि केंद्र और राज्य सरकार ईमानदारी से रिक्त पदों पर ही भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दें तो निश्चित रूप से लाखों युवाओं को रोज़गार दिया जा सकता है, लेकिन इस काम के लिए सरकारों को नैतिक ज़िम्मेदारी और राजनैतिक इच्छा-शक्ति की ज़रूरत है जिसका भाजपा शासनकाल में अत्यंत अभाव है ।
श्री भनोत बताया कि उनके द्वारा विधानसभा क्षेत्र के ग़रीब और आर्थिक रूप से कमजोर शिक्षित युवाओं को योग्य रोज़गार के लिए बैंकिंग, एसएससी, पीएससी, रेलवे, डिफ़ेंस जैसी प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए विधायक पाठशाला जैसे सशक्त माध्यम से निःशुल्क कोचिंग करवाई जा रही है और लगातार इस दिशा में सैकड़ों की संख्या में युवक-युवतियों का बैच विधायक पाठशाला के माध्यम से तैयारी कर आज विभिन्न विभागों में चयनित होकर अपने परिवार और समाज का नाम रौशन कर रहे है । जनप्रतिनिधियों द्वारा ऐसे प्रयास किए जाने चाहिए ताकि कम से कम अपने निर्वाचन क्षेत्र के आर्थिक रूप से कमजोर नौजवानों को रोज़गारोन्मुखी प्रशिक्षण और तैयारियाँ करवाई जायें ताकि उन्हें योग्य रोज़गार मिल सके ।
विधायक श्री भनोत ने बताया कि जिलें में लाखों की संख्या में शिक्षित बेरोज़गार है और यह संभव नही है कि सभी को सरकारी नौकरी दी जा सके, लेकिन इन युवाओं को उनकी योग्यता के आधार पर संगठित और निजी क्षेत्र में रोज़गार हेतु प्रयास किए जा सकते है । उसी क्रम में दिनांक 12-13 अप्रैल को उनके द्वारा कैरियर अवसर मेला का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें दर्जनों की संख्या में निजी क्षेत्र की कंपनियों को योग्य और शिक्षित मानव संसाधन के चयन के लिए आमंत्रित किया गया है । इस कैरियर मेला के माध्यम से जबलपुर के युवाओं को रोज़गार मुहैया कराये जाने का लक्ष्य है । जहां शिक्षा के लिए शहर एवं राज्य की प्रतिष्ठित महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय के बच्चों का कैरियर काउंसलिंग कर उन्हें प्रवेश लेने पर उचित स्कॉलरशिप देंगे साथ ही राज्य एवं देश की प्रतिष्ठित कंपनियों के माध्यम से अधिकतर बेरोजगार युवाओं को शैक्षणिक और व्यवसायिक योग्यता के आधार पर रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा साथ ही कुछ स्टार्टअप एवं इंटर के द्वारा युवाओं की प्रशिक्षित किया जाएगा जिससे वह स्वरोजगार के क्षेत्र में भी अपने भविष्य का निर्माण कर सकें ।
श्री भनोत ने शहर के सभी युवाओं से अपील की है कि दिनांक 12 एवं 13 अप्रैल को सुबह 10:00 से 4:00 तक उनके गोरखपुर पुलिस थाने के पास, दुर्गा मंदिर के सामने स्थित कार्यालय में आयोजित कैरियर अवसर मेला में शामिल होकर अनुभव का लाभ लें । यह आयोजन शहर के योग्य और शिक्षित युवाओं के लिए सुनहरा अवसर हैं और इच्छुक छात्र-छात्रायें आयोजन में भाग लेने के लिए अपने बायोडाटा और सभी संबंधित डाक्यूमेंट्स, परिचय पत्र की छायाप्रति अवश्य अपने साथ लायें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button