इंदौरग्वालियरजबलपुरभोपालमध्य प्रदेशराज्य

Naga Sadhu dreamed of becoming : नागा साधु को आया अर्द्धनारीश्वर बनने का सपना: केदारनाथ से इंदौर पहुंचकर कराया जेंडर चेंज, चेन्नई में भी निकलवाए थे कुछ आर्गन

Naga Sadhu dreamed of becoming:  इंदौर में गुरुवार (27 जून) को 27 वर्षीय अघोरी बाबा ने जेंडर चेंज कराया है। साधु को मेल से फीमेल बनाने प्लास्टिक कॉस्मेटिक एण्ड रिकंस्ट्रक्टिव सर्जन डॉ. अश्विन दाश ने पांच घंटे सर्जरी की। बताया, लिंग परिवर्तन की प्रक्रिया सफल रही, लेकिन अर्द्धनारीश्वर बनने जैसी बात से इनकार किया है। चर्चा है कि साधु को अर्द्धनारीश्वर बनने का सपना आया था, तभी से वह जेंडर चेंज कराने के लिए प्रयासरत हैं। चेन्नई में भी एक सर्जरी कराई थी।

अघोरी बाबा की सर्जरी गुरुवार को देर शाम तक चली। डॉक्टरों ने ब्रेस्ट इम्प्लांट कर फीमेल जेनेटाइल बनाया है। साथ ही ब्रेस्ट ऑगमेंटेशन, लेवियो प्लास्टी, वेजाइनो प्लास्टी की गई है। इस दौरान अघोरी बाबा से मिलने के लिए कुछ लोग प्रयासरत दिखे, लेकिन चूंकि वह बेहोश हैं। इसिलए नहीं मिलने दिया गया। अघोरी यहां 5 दिन एडमिट रहेंगे।

केदारनाथ में साधु जीवन बिता रहे अघोरी बाबा का ताल्लुक एक दक्षिण भारतीय ब्राह्मण परिवार से है, लेकिन सालों पहले उसने घर-परिवार को पूरी तरह से त्याग कर केदारनाथ आ गया। बुधवार को एक हजार किमी कार चलाकर केदारनाथ से इंदौर पहुंचे और गुरुवार को अस्पताल में सर्जरी कराई।

बताया गया, जेंडर चेंज कराने की बात साधु और अस्पताल प्रबंधन में सालभर से चल रही थी। उसने बताया, कुछ साल पहले अर्धनारीश्वर बनने का सपना आया था। जिसके बाद वह नागा अघोरी साधु बन गया। महीनों की बातचीत के बाद फीमेल बनने की इच्छा जताई।

जेंडर चेंज कराने आए अघोरी बाबा ने कार के दरवाजे पर तस्वीर लगा रखी है। जिसमें वह गंगा नदी के किनारे खड़ा है। गले में मानव खोपड़ी से बनी माला पहन रखी है। हिमालय में तपस्यारत शिव के सामने खुद की तस्वीर भी लगा रखी है।

चेन्नई में हो चुकी एक सर्जरी
कुछ दिनों पहले अघोरी चेन्नई की एक अस्पताल में सर्जरी करा चुका है। वहां उसके पुरुष संबंधी कुछ ऑर्गन्स निकाले गए थे। इसके बाद वह सर्जरी के लिए इंदौर पहुंचा। यहां आधार व पैन कार्ड सहित अन्य जरूरी दस्तावेज लेकर भी आया है। सर्जरी के पहले अस्पताल प्रबंधन को लिखकर दिया कि मुझे कुछ हुआ तो इसके लिए मैं ही जिम्मेदार हूं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button