जबलपुरभोपालमध्य प्रदेशराज्य

गेहूं खरीदी में बड़ी गड़बड़ीः फूड कंट्रोलर और डीएमओ की भूमिका पर सवाल

शहपुरा में पकड़ा गया घटिया गेहूं , ऐसा कई वेयर हाउस में हो रहा

जबलपुर, यशभारत। गेहूं खरीदी को लेकर जितने भी कड़े नियम बनाए गए थे वह सब छोटे किसानों के लिए थे, सर्वेयर से लेकर पूरा अमला अच्छे गेहूं खरीदी का सिर्फ ढोंग करता रहा। जिसे वेयर हाउस का निरीक्षण फूड कंट्रोलर और डीएमओ द्वारा पहले किया जा चुका था वहां सड़ा और गला हुआ गेहूं मिला है। यह सब किसी अधिकारी ने नहीं पकड़ा बल्कि एक विधायक ने पकड़ा। विधायक की सजगता से गेहूं खरीदी में हो रहे काले कारोबार का खुलासा हुआ है। हालांकि कलेक्टर ने कुछ अधिकारियों पर तत्काल कार्रवाई की और कुछ और अधिकारियों पर कार्रवाई करने को कहा गया है।

राघव वेयरहाउस चरगवाँ के पास शहपुरा का आकस्मिक निरीक्षण बरगी विधायक नीरज सिंह और तहसीलदार रविंद्र पटेल द्वारा किया गया। निरीक्षण के दौरान पुराना, घुना हुआ और नान एफएक्यू गेहूँ स्टैक्स लगाकर भंडारित किया जाना पाया गया। उक्त गेहूँ सूखा भरतपुर सहकारी समिति द्वारा समर्थन मूल्य पर कथित किसानों से ख़रीदा गया है। दस्तावेजों की जाँच में पता चला कि कुल 212 किसानों से 25800 क्विंटल की ख़रीदी दर्ज की गई, जिसमें से लगभग 20 हजार क्विंटल की स्वीकृति उपार्जन एजेंसी मार्कफेड द्वारा जारी की गई है, जिसके आधार पर कुल भुगतान राशि 6 करोड़ 19 लाख में से 4 करोड़ 56 लाख का भुगतान हो चुका है। इस वेयरहाउस का निरीक्षण कुछ दिन पहले ही फूड-कंट्रोलर नदीमा शीरी द्वारा किया गया था और डीएमओ अर्पित तिवारी भी निरीक्षण कर चुके थे।

13 में से 2 स्टैक्स में मिला घुना गेहूँ

प्राथमिक जाँच में कुल 13 स्टैक्स में से 2 स्टैक्स में अंदर की लेयर में पुराना, घुना हुआ और नॉन एफएक्यू गेहूँ पाया गया है, अन्य स्टैक्स में भी ख़राब गेहूँ भंडारित होने की आशंका है। चूँकि घटिया गेहूँ को बहुत नीचे दबाकर रखा गया है, इसलिए इसकी जाँच करने में मुश्किल आ रही है, लेकिन यह तय है कि यहाँ हजारों क्विंटल और घटिया गेहूँ मिलेगा। सब मिले हुए हैं कलेक्टर श्री सक्सेना ने कहा कि ख़रीदी घपले में समिति प्रबंधक राकेश नंदेसरिया, खरीदी केंद्र प्रभारी भूपेंद्र सिंह पटेल, अभिषेक दीक्षित वेयरहाउस संचालक, आपरेटर सृजल जैन, सर्वेयर प्रवीण रजक और शुभम शर्मा की संलिप्तता प्रथम दृष्टया पाई गई है। नोडल अधिकारी, जेएसओ सस्पेंड गेहूँ खरीदी घपले में कथित संलिप्तता और लापरवाही के लिए नोडल अधिकारी रघुनाथ कुदौलिया सहकारिता निरीक्षक, जेएसओ सुश्री भावना तिवारी एवं कुन्जम सिंह राजपूत को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है, वहीं शाखा प्रबंधक वेयरहाउसिंग कॉर्पोरेशन प्रियंका पठारिया को निलंबित करने का प्रस्ताव एमडी डब्ल्यूएलसी को प्रेषित किया जा रहा है।

यशभारत लगातार गेहूं खरीदी की खबरें प्रकाशित कर रहा है

मालूम हो कि यशभारत गेहूं खरीदी में हो रही गड़बड़ियों की खबरें लगातार प्रकाशित कर रहा है। सर्वेयर से लेकर अधिकारी किस तरह से गेहूं खरीदी में गड़बड़ी कर रहे हैं इसको लेकर वरिष्ठ अधिकारियों को भी सचेत किया गया था। परंतु हर बार अधिकारी वर्ग गेहूं खरीदी को सही ढंग से संचालित होना बता रहे थे।

2.3/5 - (3 votes)

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button