जबलपुर

वेस्टइंडीज के ब्रिजटाउन बारबडोस ग्राउंड में शान से लहराया तिरंगा, शहर में भारत की जीत पर भव्य जश्न, सुबह 4.30 बजे तक जाहिर की गई खुशी. Grand celebration on India’s victory in the city,

 

नन्हे-मुन्ने बच्चे, महिलाएं, युवा वर्ग का हुजूम उमड़ा सड़क पर

 

Untitled 17 copy

जबलपुर,यशभारत। रात 11 बजे तक शहर की सड़कों पर सन्नाटा रात 11 बजकर 20 मिनिट में चारों तरफ आतिशबाजी और भारत माता की जय के जयघोष, हाथों में तिरंगा लिए बड़ी संख्या में युवा वर्ग , हाथों में भारत की शान तिरंगा ध्वज को हाथ में लेकर नाचते हुईं नन्हे-मुन्ने बच्चे,-बच्चियां , परिवार के साथ सड़कों पर तिरंगा फहरातीं हुईं महिलाएं, जोरदार आतिशबाजी.. दोपहिया वाहनों के साथ चार पहिया वाहनों का काफिला… जी हां ये जश्न का नजारा शहर के हृदय स्थल मालवीय चौक, बड़ा फुहारा, कमानिया गेट के पास यशभारत के कैमरे में कैद हुआ। मौका था वेस्टइंडीज के कैन्सिन्गटन ओवल , ब्रिजटाउन बारबडोस ग्राउंड में क्रिकेट वर्ल्ड कप टी-20 के फाइनल मुकाबले में टीम इंडिया की शानदार जीत का। शहर के मालवीय चौक, बड़ा फुहारा क्षेत्र में रसुबह 4.30 बजे तक जश्र का माहौल रहा।

Untitled 7 copy

कुछ इर तरह रहा रोचकता का दौर
टी -20 वर्ल्ड कप का फाइनल मुकाबला बहुत रोचक रहा। पहली बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने विराट के शानदार 76 , अक्षर पटैल के 47 रनों की मदद से निर्धारित 20 ओवरों में 7 विकेट खोकर 176 रन बनाए। 177 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी साउथ अफ्रीका की टीम के हेनरिक क्लासेन ने उम्दा बल्लेबाजी करते हुए 16 ओवरों तक पूरा मैच साउथ अफ्रीका की झोली में डाल दिया था। शहर के क्रिकेट प्रेमियों में निराशा छाई हुई थी। इसके बाद टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा ने 17वें ओवर के लिए हार्दिक पांड्या को गेंदबाजी सौंपी जिस पर खरे उतरकर हार्दिक ने खतरनाक बल्लेबाजी कर रहे हेनरिक क्लासेन को अपनी पहली ही गेंद पर आउट जैसे ही किया वैसे ही शहर में जोरदार आतिशबाजी और क्रिकेट प्रेमियों में उत्साह वापस लौट आया। इसके बाद धीरे-धीरे भारत ने मैच पर कब्जा करना शुरू किया और अर्शदीप सिंह, हार्दिक पांड्या ने कसी गेंदबाजी करते हुए टीम इंडिया को शानदार जीत दिलाई तो शहर की सड़कों पर क्रिकेट प्रेमियों का जनसैलाब उमड़ पड़ा। मैच में 20वें ओवर के दौरान बाउंडरी पर सूर्यकुमार यादव के द्वारा पकड़ा गया शानदार कैच की शहर में जमकर तारीफ हुई। लोगों का कहना था कि सूर्यकुमार का वो कैच हमारा वर्ल्डकप ही था। जानकारी के अनुसार मालवीय चौक, बड़ा फुहारा, गोलबाजार, सदर व सिविल लाइन सहित पूरे शहर मेें जमकर आतिशबाजी के साथ क्रिकेट प्रेमियों द्वारा भारत की जीत का शानदार जश्न मनाया गया।

Untitled 18 copy

 

Rate this post

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button