इंदौरकटनीग्वालियरजबलपुरदेशभोपालमध्य प्रदेशराज्य

पेपर लीक केस: सुभासपा विधायक बेदी राम और निषाद पार्टी के MLA विपुल दूबे समेत 18 के खिलाफ गैर जमानती वारंट

उत्तर प्रदेश पेपर लीक फर्जीवाड़े में सरकार सख्त है। सपा समेत अन्‍य अन्य विपक्षी दल भी लगातार निशाना साध रहे हैं। लखनऊ की गैंगस्‍टर कोर्ट ने इस मामले में सुभासपा विधायक बेदी राम और निषाद पार्टी के विधायक विपुल दुबे सहित 18 आरोपियों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है।

विपुल दुबे भदोही की ज्ञानपुर और बेदी राम गाजीपुर के जखनिया सीट से एमएलए हैं। 2006 में हुए रेलवे की ग्रुप डी परीक्षा पेपर लीक में 26 जुलाई को सुनवाई होनी है। कोर्ट ने सभी आरोपियों को पेश होने के लिए आदेशित किया है।

 

 

रेलवे द्वारा आयोजित ग्रुप डी की परीक्षा से एक दिन पहले बेदीराम के घर से पेपर बरामद हुआ था। एसटीएफ ने 25 फरवरी 2006 को आलमबाग से बेदीराम और विपुल दुबे सहित 16 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। साथ ही कृष्णा नगर थाने में इनके खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में केस दर्ज कराया था। पुलिस ने 18 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है।

 

 

26 जुलाई को पेश होने का आदेश
गैंगस्‍टर कोर्ट ने विधायक बेदी राम समेत अन्य आरोपियों की हाजिरी माफी का आवेदन खारिज कर दिया गैर जमानती वारंट जारी किया है। कोर्ट ने इंस्‍पेक्‍टर कृष्‍णा नगर को आदेशित किया है कि 26 जुलाई को सभी आरोपियों को हर हाल में कोर्ट में उपस्थित कराएं।

3/5 - (3 votes)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button