मध्य प्रदेश
Trending

चमकदार गेहूं के रेट में हुई बंपर उछाल,यह गेहूं पहुंचा 3000 के पार,देखिए आज ताजा रेट

गेहूं के रेट में एक बार फिर से उछाल देखने को मिली है. मध्यप्रदेश के देवास मंडी में गेहूं की बंपर आवक हो रही है.लेकिन इसके बावजूद ग्राहकों को इसका ज्यादा रेट देना पड़ रहा है. उपभोक्ताओं को सालाना संग्रह के लिए गेहूं के ज्यादा रेट देने पड़ रहे हैं.

गेहू की कीमत

लगातार बढ़ते गेहूं के रेट के वजह से उपभोक्ताओं की परेशानी बढ़ने लगी है. सिर्फ गेहूं ही नहीं बल्कि कई खाद्य पदार्थों की कीमतों में उछाल हो रही है वहीं दूसरी तरफ गेहूं के कीमतों में भी उछाल हुई है जिसकी वजह से लोगों को काफी परेशान होना पड़ता है.

देवास मंडी ने वित्तीय वर्ष 31 मार्च तक आय का आंकड़ा 32 करोड़ को पार कर लिया है। जिसमें करीब 31 करोड़ मंडी शुल्क जमा हुआ है। इस तरह यह संभाग की सर्वाधिक आय अर्जित करने वाली मंडी हो गई है। साथ ही उज्जैन जिले में गेहूं की बोवनी का रकबा बढ़ने के साथ ही उत्पादन भी बंपर हुआ है। फरवरी के दूसरे सप्ताह से ही मंडी में नए गेहूं की आवक शुरू हो गई थी। जो की दिन प्रति दिन बढ़ती गई और अभी भी बढ़ती ही जा रही है।

देखिये क्या है गेहू का भाव

हमें प्राप्त जानकारी के अनुसार गत दिनों से नीलामी में 40 हजार बोरी की आवक दर्ज की जा रही है लेकिन बेमौसम बारिश से क्वालिटी काफी प्रभावित हुई है। चमकदार गेहूं की पैदावार कम हो गई। लस्तर गेहूं ज्यादा आने लगा है। जिसके परिणाम स्वरुप चमक वाले गेहूं के भाव 3100 रुपये क्विंटल तक पहुंच गए है वही चमक विहीन गेहूं 2000 से 2100 रुपये क्विंटल बिक रहा है। ऐसे में उपभोक्ताओं को अच्छे गेहूं सालाना रखने के लिए 3000 रुपये क्विंटल से अधिक भाव देना पड़ रहे हैं। जिससे स्थानीय ग्राहकी में कमी आ गई है। उपभोक्ता गेहूं सस्ता होने का इंतजार कर रहा है।

Also Read:JABALPUR NEWS- कानूनी दांवपेच में बंद हुआ खेत जाने का रास्ता- अपनी ही जमीन तक पहुंचने परेशान हो रहे 50 से अधिक किसान 200 एकड़ की फसल भगवान भरोसे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button