जबलपुरमध्य प्रदेशराज्य

JABALPUR NEWS- भागवत के मस्जिद जाने पर घमासान: दिग्विजय बोले मुस्लिम कभी बहुसंख्यक नहीं होंगे, नरोत्तम का पलटवार मुस्लिम से बैर नहीं

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा, हमारी स्पष्ट सोच शुरू से यही है

जबलपुर, यशभारत। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख के मस्जिद जाने पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने जबलपुर में सर्किट हाउस में पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि स्पष्ट सोच शुरू से ही है, मुसलमान से बैर नहीं है और आतंकियों की खैर नहीं है। हम किसी धर्म और मजहब के खिलाफ नहीं हैं। ये इसी बात का द्योतक है, हम रहीम और रस खान के उपासक रहे हैं। हमारी संस्कृति शुरू से ही वसुधव: कुटुंबकम की रही है। टेरर फंडिंग पर एटीएस और एनआइए के छापे पर गृहमंत्री बोले, एटीएस और एनआइए ने जॉइंट ऑपरेशन चलाया है। कल कई लोगों को गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों को अदालत में पेश कर आज रिमांड पर लिया जाएगा। उन्होंने कांग्रेस का आड़े हाथ लेते हुए कहा कि विचित्र दुविधाओं में फंसी कांग्रेस चार साल में अध्यक्ष नहीं चुन पाईं। कार्यकारी अध्यक्ष से काम चला रहे हैं, जिसके नाम का प्रस्ताव पास वह अध्यक्ष बनना नहीं चाहते, जो अध्यक्ष बनना चाहते हैं, उसे बनाने के लिए तैयार नहीं है।
कांग्रेस डूबता जहाज है इसका डूबना तय है
देश मे कांग्रेस के नेता हर राज्य में छोड़ -छोड़ कर जा रहे हैं। इस दिल के टुकड़े हजार हुए एक इधर गिरा एक उधर गिरा। एमपी की सीमा में आए तो राहुल गांधी ने 10 दिन के अंदर दो लाख का कर्जा माफ किया था। किसी एक किसान को साथ लेकर चले जिसका कर्ज 10 दिन में माफ किया हो। उस एक नौजवान को भी लेकर चले जिसे 4 हजार रुपए मिले हैं। और ऐसा नहीं करते हैं तो झूठ बोलने का पाप जो कांग्रेस ने किया है लिखित में माफी मांगने का काम करे। गृहमंत्री ने कहा, मध्यप्रदेश में राहुल गांधी आएं तो बताएं अभी तक उन्हें भारत कहां टूटा हुआ दिखा, जिसे वो जोड़ आए।

 

दिग्विजय सिंह  ने कहा गांधी को भाजपा ने किया चश्मे तक सीमित

जबलपुर,यशभारत।. अपने गुरू ब्रह्मलीन शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती महाराज के श्रद्धांजली समारोह में भाग लेने नरसिंहपुर के लिए रवाना होने से पहले कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह जबलपुर पहुंचे। यहां पत्रकारों से मुखातिब होते हुए उन्होंने संघ प्रमुख मोहन भागवत द्वारा गुरूवार को मुस्लिम धर्मगुरूओं से की मुलाकात पर कई कटाक्ष किए। दिग्विजय सिंह ने कहा कि भारत जोड़ों यात्रा का इतना प्रभाव पड़ा है कि मोहन भागवत मदरसे-मस्जिद में जाने लगे हैं। उन्हें यह प्रेरणा मिली उसके लिए हम उनका आभार प्रकट करते हैं। आरएसएस में नीचे तक यह बात जानी चाहिए कि वे हिंदु ,मुस्लिम ,सिख ईसाई में वैमनस्यता पैदा न करें। जिस प्रकार से नफरत फैलाई जा र है वह उचित नहीं है।

हम नहीं मानते राष्ट,पिता, इमाम ने दबाव में कहा
वहीं संघ प्रमुख मोहन भागवत को इमाम द्वारा राष्ट्रपिता कहकर संबोधित किए जाने पर दिग्गी ने कहा कि इमाम साहब जब यह बात कर रहे हैं तो समझ लिए कि वे कितने दबाव हैं। संघ एक ऐसी संस्था है जिसका पंजीयन नहीं हैं। जब तक उनके स्वयंसेवक इस आचरण को नीचे तक नहीं जाऐंगे इसका कोई मतलब नहीं है । इमाम साहब ने यह क्या कहा उनसे पूछिए मैं ऐसा नहीं मानता।
राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह ने कहा कि इतिहास बदलने का प्रयास किया जा रहा है। महात्मा गांधी को केवल चश्मे तक सीमित कर दिया गया। नेहरू के लिए जिस प्रकार से अपमानजनक बातें कही जा रही हैं हम इसका विरोध करते हैं। 7 सितंबर को स्वामी विवेकानंद के मेमोरियल पर खुद राहुल गंाधी गए लेकिन केंद्रीय मंत्री ने सरासर झूठ फैलाया। हम कहते हैं जोड़ो वो कहते हैं तोड़ो। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि इस यात्रा को वोटों की राजनीति से न जोड़ें।

भारत जोड़ो यात्रा पर भी बोले दिग्गी
बीजेपी नेताओं द्वारा कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा पर की जा रही टिप्पणियों पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि बीजेपी के पास कहने को कुछ बचा नहीं इसलिए टीशर्ट पर टिप्पणी करने लगे हैं। कोई मुद्दा नहीं बचा। मोदी जबसे आए हैं राहुल जी को टारगेट किए हुए हैं।

मुसलमान देश में नहीं बन पाऐंगे बहुसंख्यक
दिग्विजय सिंह ने कहा कि संघ का दुष्प्रचार है कि मुसलमान दर्जनों बच्चे पैदा करते हैं और यह बहुसंख्यक हो जाऐंगे। उन्होंने एक शोध का हवाला देते हुए कहा कि किसी भी हालत में इस देश में मुसलमान बहुसंख्यक नहीं हो सकते, हिंदुओं की जनसंख्या में जितनी गिरावट हो रही है उससे ज्यादा गिरावट मुसलमानों की जनसंख्या में हो रही है।

नवंबर में प्रदेश में प्रवेश करेगी यात्रा
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भारत जोड़ो यात्रा के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि 199 भारत जोड़ो यात्रा रोज चल रहे हैं, जिसमें तमाम मोर्चा संगठन के पदाधिकारी शामिल हैं, यात्रा में 30 फीसद से ज्यादा महिलाएं हैं, राहुल जी बड़े आराम से चल रहे हैं। सभी डेलिगेशन से उनकी चर्चा हो रही है। नवंबर के आखिर तक वे मध्यप्रदेश में प्रवेश करेंगे, बुरहानपुर होते हुए उज्जैन पहुंचेंगे। 16-17 दिन प्रदेश में रहेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button