जबलपुर

एक लाख दो वरना लगा देंगे चार सौ बीसी लोकायुक्त ने गोराबाजार थाने में पदस्थ हवलदार को रंगे हाथों पकड़ा 

 

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

 

 

 

जबलपुर यश भारत।लोकायुक्त द्वारा एक पुलिस कर्मचारी को रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा गया है लोकायुक्त एसएसपी संजय साहू ने बताया किआवेदक संदीप यादव द्वारा इस बात की शिकायत की जा रही थी कि दो पुलिस कर्मचारी जो कि जबलपुर के गोराबाजार में पदस्थ हैं पिछले काफी दिनों से पैसे की डिमांड कर रहे हैं जिसके बाद आवेदक द्वारा लोकायुक्त से संपर्क किया गया और लोकायुक्त ने मामले को गंभीरता पूर्वक लेते हुए ट्रैपिंग की प्रोसेस शुरू कर दी और सिविल लाइन स्थित गेस्ट हाउस में आवेदक को एक पुलिस कर्मचारी हवलदार उर्मिलेश ओझा को 40 हजार रुपए लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा।

15 दिनों से कर रहे थे प्रताड़ित- वहीं दूसरी तरफ फरियादी संदीप यादव ने बताया कि उसका 2019 में शराब व्यापारी राजेंद्र जायसवाल के साथ जमीन को लेकर एग्रीमेंट हुआ था तू 5 साल बाद रजिस्ट्री न करने के कारण संदीप ने राजेंद्र से अपना एग्रीमेंट कैंसिल कर लिया कुछ दिन बाद राजेंद्र जायसवाल जो कि शराब व्यापारी है उसके द्वारा थाने में संदीप के खिलाफ एक आवेदन दिया गया और यह जांच थाने में पदस्थ हवलदार उर्मिलेश ओझा के पास पहुंची और उर्मिलेश ओझा लगातार संदीप को पैसे के लिए प्रताड़ित करने लगे 2 दिन पूर्व और उर्मिलेश के साथ राजेश गौतम संदीप के घर पहुंचे और उन्होंने लाख की डिमांड की।

शामिल दोनों आरोपी एक-वहीं दूसरी तरफ मामले में एक और बात सामने आई है कि उर्मिलेश ओझा के साथ राजेश गौतम भी शामिल था परंतु लोकायुक्त द्वारा उर्मलेश को ही ट्रैप किया गया है और आवेदक द्वारा राजेश गौतम को भी इस पूरे षडयंत्र में शामिल होनाबताया गया है

 

5/5 - (1 vote)

Related Articles

Back to top button