देश

जानिए आप घर पर कितनी शराब की बोतल रख सकते हैं, ताकि न माना जाए गैरकानूनी 

जानिए आप घर पर कितनी शराब की बोतल रख सकते हैं, ताकि न माना जाए गैरकानूनी जी हाँ,आप यदि अधिक मात्रा में घर पर शराब रखते हो तो वो आपके लिए गैरकानूनी हो सकती है। हल में ही दिल्ली हाईकोर्ट के सामने एक केस आया है जिसमे एक घर में 132 शराब की बोतलों को रखा गया था। तो आइये जानते है पूरी बात

जानिए आप घर पर कितनी शराब की बोतल रख सकते हैं, ताकि न माना जाए गैरकानूनी 

liquor7
जानिए आप घर पर कितनी शराब की बोतल रख सकते हैं, ताकि न माना जाए गैरकानूनी

जानिए की  देश में कानूनन हर व्यक्ति एक सीमित मात्रा में शराब रख सकता है या नहीं 

दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश अनुसार यह बात स्पष्ट हुई है की 25 साल से ज्यादा का व्यक्ति एक तय मात्रा में ही शराब को रख सकता है। 25 साल का व्यक्ति 9 लीटर व्हिस्की (Whisky), जिन, रम और वोडका (Vodka) रख सकता है. वहीं 18 लीटर बीयर (Beer) केवल एक व्यक्ति रख सकता है। साथ ही वाइन और एल्कोपॉप्स भी 18 लीटर तक Storage कर सकता है।

दिल्ली की हाईकोर्ट में दर्ज हुआ मामला

दिल्ली हाईकोर्ट में एक ऐसा ही केस सामने आया जिसमे एक व्यक्ति ने अपने घर में 132 बोतलों को रखा गया था ,जिसमे कुछ 51.8 लीटर व्हिस्की, जिन, रम, वोडका पाया गया थी। वहीं 55.4 लीटर बीयर घर में पाई गई थी। ये एक ज्वाइंट फैमली (Joint Family) थी। जिसमे 6 लोगो की उम्र 25 साल से ज्यादा की थी। दिल्ली एक्साइज एक्ट (Delhi Excise Act) के नियमों के अनुसार शराब की मात्रा कुल लोगों के हिसाब से नियमों का उल्लंघन नहीं है। बता दें कि यह केस साल 2009 का था।

पुलिस ने घर पर मारी थी छापेमारी

पुलिस ने इस घर में छापेमारी करके यह शराब की बोतलें की हिरासत में लिया था। लेकिन, कोर्ट में मामला सामने आने पर इस एफआईआर को रद्द कर दिया। इसके साथ ही आरोपियों पर किसी तरह की कार्रवाई करने से मना कर दिया। बता दें कि दिल्ली पुलिस ने साल 2009 में इस परिवार के घर पर कुछ खुफिया जानकारी मिलने पर छापेमारी की थी।

यह भी पढ़े :-

एमपी के शराबियों के लिए बड़ी खुशखबरी, अप्रैल के महीने में शराब के रेट में बड़ा बदलाव, जानिए क्या है नए रेट 

कहीं चिकिन की दुकान तो कहीं ठेले में परोसी जा रही थी शराब

जानिए आप घर पर कितनी शराब की बोतल रख सकते हैं, ताकि न माना जाए गैरकानूनी 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button