जबलपुरमध्य प्रदेश

बिजली विभाग का कारनामा : 5 लाख 8 हजार मीटर जले, नहीं हुआ सुधार कंपनियों को लग रही लाखों की चपत

Untitled design

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

जबलपुर यश भारत। बिजली विभाग अपने कारनामों को लेकर हमेशा सुर्खियों में बना ही रहता है ताजा मामला उपभोक्ताओं के जले हुए मीटर में सुधार कार्य करने का है, लेकिन वर्षों से यह कार्य अधूरा है, जिसके चलते जबलपुर संभाग में करीब 5 लाख 8 हजार उपभोक्ताओं के मीटर को नहीं बदला जा सका।

जानकारी अनुसार बिजली वितरण कंपनियों को लगातार लाखों रुपए का घाटा लग रहा है जिसके चलते अब बिजली वितरण कंपनियों ने विगत दिनों बिजली बिल में इजाफा करने का प्रस्ताव दिया है यदि सब कुछ ठीक रहा तो बहुत जल्द बिजली के दामों में इजाफा हो जाएंगे, दरअसल यह पूरा मामला आर्थिक संकट झेल रहे विभाग को उवारने का है। लेकिन बिजली वितरण कंपनियों को आखिर घटा क्यों लग रहा है जब अधिकारियों ने इसकी समीक्षा की तो एक कारण जले हुए मीटर को ना बदलना भी है।

 

28.75 लाख हैं उपभोक्ता

जबलपुर संभाग में 28.75 लाख उपभोक्ता है जिनमें से 5 लाख 8 हजार ऐसे उपभोक्ता है जिनकी घरों का जला हुआ मीटर बरसों के बाद भी नहीं बदला जा सका। जिसके कारण इनकी दैनिक खपत का बिल स्पष्ट नहीं हो सका और कम बिल आने के कारण कंपनियों को इसका सीधा-सीधा घाटा सहन करना पड़ा।

 

इन्होंने कहा….

जबलपुर संभाग में 28.75 लाख उपभोक्ता हैं जिनमें से 5 लाख 8 हजार उपभोक्ताओं के मीटर जल चुके हैं जिन्हें बदलने की कार्रवाई की जाएगी।

सीई, जीडी वासनिक

1/5 - (1 vote)

Related Articles

Back to top button