इंदौरग्वालियरजबलपुरभोपालमध्य प्रदेशराज्य

एप्रिन पहनकर विधानसभा पहुंचे कांग्रेस विधायक:नर्सिंग घोटाले पर हंगामा, कार्यवाही स्थगित; मंत्री विश्वास सारंग को बर्खास्त करने की मांग

मध्यप्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के पहले दिन सोमवार को कांग्रेस ने नर्सिंग घोटाले पर चर्चा की मांग की। नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने कहा, युवाओं के साथ अन्याय हुआ है, चर्चा होनी चाहिए। इस पर संसदीय कार्यमंत्री कैलाश विजयवर्गी ने कहा, मामला कोर्ट में है, इसलिए चर्चा नहीं हो सकती। इसके बाद सदन में हंगामा हो गया। विधानसभा अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर ने दोपहर 1 बजे तक के लिए कार्यवाही स्थगित कर दी।

विपक्ष के विधायक विधानसभा परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने नर्सिंग घोटाले को लेकर नारेबाजी की और चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग को बर्खास्त करने की मांग की। सिंघार ने कहा, नर्सिंग घोटाले में 300 करोड़ की वसूली हुई। अब इस तरह का घोटाला न हो, इसलिए मंत्री सारंग को बर्खास्त करने की मांग कर रहे हैं।विधानसभा की कार्यवाही शुरू होने से पहले नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार और कांग्रेस विधायक एप्रिन पहनकर पहुंचे और नर्सिंग घोटाले को लेकर नारेबाजी की। कमलनाथ ने कहा, प्रश्न ये नहीं है कि प्रदेश में घोटाले हुए, प्रश्न ये है कि प्रदेश में कौन सा घोटाला नहीं हुआ। वहीं, मंत्री गोविंद सिंह राजपूत बोले- विपक्ष के पास न मुद्दा बचा है न कोई बोलने वाला। विपक्ष अगर स्थगन प्रस्ताव लाता है तो हम उसका जवाब देने को भी तैयार हैं।

सत्र में 19 जुलाई तक 14 बैठकें होंगी। 3 जुलाई को सरकार वित्त वर्ष 2024-25 के लिए पूर्ण बजट पेश करेगी। वहीं, विपक्ष प्रदेश की खराब वित्तीय स्थिति पर श्वेत पत्र की मांग कर सकता है।नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने कहा, नर्सिंग घोटाले में प्रदेश के अंदर 300 करोड़ की वसूली की गई। मंत्री सारंग ने अपने हिसाब से कानून बनाए। फेरबदल किए। कानून ने फटकार लगाई, लेकिन उन्होंने बात नहीं सुनी। आगे घोटाले न हों, इसको लेकर हम विश्वास सारंग के इस्तीफे की मांक कर रहे हैं।
दिवंगत नेताओं और शहीद को दी श्रद्धांजलि
दिवंगत नेताओं और शहीदों को विधानसभा में श्रद्धांजलि दी गई। सीएम डॉ. मोहन यादव ने दिवंगत नेताओं के जीवन के बारे में बताया और श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार के बाद संसदीय कार्य मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने श्रद्धांजलि दी।

जिन विधायकों के निधन के बाद श्रद्धांजलि अर्पित की गई, उसमें पूर्व विधायक हर्ष सिंह, चंद्रप्रभाष शेखर, विजय दुबे, मकसूदन लाल चंद्राकार, शांतिलाल बिलवाल, बेनी परते, जसवंत सिंह राठौर, मदनलाल त्यागी, विट्ठल राव महाले, पूर्व राज्यपाल डॉक्टर अजीज कुरैशी, पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मनोहर जोशी, जैन संत आचार्य विद्यासागर महाराज, आतंकी हमले एवं ड्यूटी पर शहीद जवान तथा 28 फरवरी 2024 की रात में डिंडोरी जिले के शहपुरा के बरझर घाट के पास वाहन दुर्घटना में मृत व्यक्ति शामिल हैं ।

Rate this post

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button