कटनीमध्य प्रदेश

शहर में बढ़ी मोहर्रम की चहल-पहल, मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में साज-सजावट

हर रोज हो रहा लंगर, कल मोहल्लों में गश्त करेंगी सवारियां

Screenshot 20240711 181040 WhatsApp Screenshot 20240711 181021 WhatsApp

अंजूमन इस्लामिया ट्रस्ट के अध्यक्ष लिप्पू भाई, मोहर्रम इंतजामिया कमेटी के अध्यक्ष मोहसिन खान एवं मुस्लिम त्योहार कमेटी के अध्यक्ष अज्जू भाई ने बताया कि कल 12 जुलाई को मोहर्रम की पांचवी तारीख को सवारियों की पिटारी उठेगी, जो मोहल्ले का गश्त करेगी और जहां से सवारी उठेगी, वही पर ठंडी कर दी जायेगी। ये प्रोग्राम रात्रि 12 बजे से शुरू होगा। मोहर्रम की पांचवी तारीख को 14 जुलाई को सवारियां एक दूसरे मोहल्ले का गस्त करेगी। ये कार्यक्रम रात्रि 12 बजे के बाद शुरू होगा। इस जुलूस में ताजिया शामिल नहीं होंगे। इसी तरह मोहर्रम की 8 तारीख 15 जुलाई को शाम 5 बजे सभी मोहल्ले से अली गोल उठेगा और दिलावर चौक में एकत्रित होगा। जुलूस का रास्ता दिलावर चौक से नगर निगम रोड से होता हुआ सुभाष चौक से अल्फर्ट गंज गली से मघई मंदिर से निकलता हुआ कमानिया गेट के सामने से होता हुआ कपड़हाई झन्डा बाजार, रूई मंडी के सामने से होता हुआ गांधी द्वार के सामने से होता हुआ पोस्ट आफिस के सामने वाली गली में जाएगा और मुस्लिम गली के अंदर से होता हुआ मीट मार्केट दिलावर चौक आएगा। यहीं पर जुलूस का समापन होगा।
16 जुलाई को शहादत की रात
मोहर्रम की 9 तारीख 16 जुलाई शहादत की रात है। रात 1 बजे से रात्रि 1.30 बजे के बीच समस्त ताजिये, सवारी व अखाड़े ढोल दिलावर चौक में एकत्रित होकर रजा चौक मौला चौक से नगर निगम के सामने से होता हुआ कमानिया गेट जायेगा, वहां सवारिया सुभाष वार्ड के मोहल्ले में जायेगी, वहां मघई मंदिर से होते हुये कमानिया गेट पहुंचेगा। खिरहनी फाटक का ताजिया भी कमानिया गेट पहुंचेगा। लगभग दो घण्टे मजमा स्व. गुलाम भाई की दुकान के सामने रूकेगा। इसके बाद सुभाष चौक व थाने से होता हुआ दिलावर चौक आयेगा और वहीं पर जुलूस का समापन होगा। देर रात तक कमानिया गेट पर ताजिया सवारी एकत्रित होंगी व सुबह 4.30 बजे तक जुलूस वापिस होगा।

Related Articles

17 जुलाई को निकलेगा मोहर्रम का जुलूस

जानकारी के मुताबिक मोहर्रम की 10 तारीख 17 जुलाई को शाम 5 बजे से 6 बजे तक दिलावर चौक में सवारिया अखाड़े व ताजियों का एक जुलूस एकत्रित होगा, वहां से यासीन होटल, रजा चौक, मौला चौक, नगर निगम के सामने से होता हुआ सुभाष चौक जायेगा। वहां से कमानिया गेट पहुंचेगा और कमानिया गेट में लगभग 2 घण्टे जुलूस रूक कर वापिस होगा। वहां से वापिस होकर जगह-जगह रूकता हुआ मेन रोड से होता हुआ मिशन चौक पहुंचेगा। आजाद चौक से लगभग 1 बजे रात्रि गाटरघाट व धाऊ चक्की कर्बला शरीफ के लिये रवाना होगा । रात्रि 1 बजे से 2 बजे तक जुलूस का समापन होगा। नदी में ताजिया सिराने के काम में कटनी सेवा समिति द्वारा सहयोग दिया जाएगा।

Rate this post

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button