जबलपुरभोपालमध्य प्रदेशराज्य

मुख्यमंत्री डॉ मोहन ने उज्जैन में तो पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने संविधान हाथ में लेकर डाला वोट: उज्जैन से कांग्रेस प्रत्याशी महेश परमार बैठे धरने पर

यश भारत (पॉलिटिकल डेस्क)/ लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण के मतदान में प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने उज्जैन पहुंचकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया। वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने अपने गृह ग्राम बोरवां कलां जिला खरगोन में संविधान की प्रति हाथ में लेकर अपना वोट डाला। वे अपने छोटे भाई पूर्व मंत्री सचिन यादव के साथ मतदान करने पहुंचे। उज्जैन में पीठासीन अधिकारी द्वारा नारे लगाने पर कांग्रेस प्रत्याशी महेश परमार के धरने पर बैठने के बाद आयोग ने अधिकारी को हटाया।

 

तीसरे चरण के आज के मतदान में प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने उज्जैन में मतदान किया। मतदान करने के बाद मुख्यमंत्री ने कहा की मुझे इस बात की प्रसन्नता है कि आज हमने भी अपने मताधिकार का प्रयोग किया। पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने मतदान के बाद पत्रकारों को संविधान की प्रति दिखाते हुए कहा कि भाजपा संविधान को खत्म करने पर उतारू है। हम बाबा साहब अम्बेडकर के संविधान की मरते दम तक रक्षा करेंगे।

 

उधर उज्जैन में मतदान केंद्र के अंदर पीठासीन अधिकारी द्वारा मोदी-मोदी के नारे लगाने के आरोप के साथ कांग्रेस प्रत्याशी महेश परमार मतदान केंद्र के बाहर धरने पर बैठ गए हैं। उन्होंने मुख्य पीठासीन अधिकारी पर बीजेपी के प्रचार का आरोप लगाया है।

 

बताया गया है कि उज्जैन के वार्ड 35 के बूथ क्रमांक 37 पर मतदान केंद्र के अंदर पीठासीन अधिकारी नारे लगा रही थीं। वहीं कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पीठासीन अधिकारी के नारे लगाने का वीडियो भी बनाया है। इस घटना से वहां हंगामा खड़ा हो गया। शिकायत मिलते ही जिला निर्वाचन अधिकारी ने संबंधित पीठासीन अधिकारी को मतदान केंद्र से तत्काल प्रभाव से हटा दिया है।

Rate this post

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button