इंदौरग्वालियरजबलपुरदेशभोपालमध्य प्रदेशराज्य

व्यास तहखाने में पूजा जारी रहेगी:हाईकोर्ट का रोक से इनकार, 6 फरवरी को अगली सुनवाई; 1700 से ज्यादा नमाजी ज्ञानवापी पहुंचे

ज्ञानवापी के व्यास तहखाने में पूजा-पाठ जारी रहेगा। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मुस्लिम पक्ष की याचिका पर पूजा पर रोक लगाने का आदेश नहीं दिया है। कोर्ट ने एडवोकेट जनरल को लॉ एंड ऑर्डर मेंटेन रखने का आदेश भी दिया है। इस मामले में अब अगली सुनवाई 6 फरवरी को होगी।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

इससे पहले, गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने व्यास तहखाने में पूजा-पाठ रोकने से जुड़ी याचिका पर तत्काल सुनवाई से इनकार कर दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने मुस्लिम पक्ष को पहले हाईकोर्ट जाने का सुझाव दिया था।

इससे पहले हाईकोर्ट में दोनों पक्षों की बहस हुई। ​इसके बाद जज की पीठ ने एजी से वाराणसी की स्थिति के बारे में भी जानकारी ली। वहीं, मुस्लिम पक्ष ने कोर्ट को बताया कि वाराणसी कोर्ट ने 7 दिन में पूजा की व्यवस्था तहखाने में करने का निर्देश दिया था। हालांकि, डीएम ने महज 7 घंटे में ही पूजा की प्रक्रिया शुरू करा दी। इससे वहां अफरातफरी मच गई।

वहीं, हाईकोर्ट ने हिंदू पक्ष से पूछा कि पूजा के लिए अभी एप्लिकेशन डालने की जरूरत क्या थी? हिंदू पक्ष के वकील विष्णु जैन ने कहा कि ASI के सर्वे में तहखाने का दरवाजा नहीं मिला। कोर्ट ने मुस्लिम पक्ष से पूछा कि तहखाने का दरवाजा कहां गया?

काशी विश्वनाथ मंदिर के गेट नंबर 4 से सभी वाहनों के प्रवेश रोक दिया गयाा।
काशी विश्वनाथ मंदिर के गेट नंबर 4 से सभी वाहनों के प्रवेश रोक दिया गयाा।

मुस्लिम पक्ष का बंद का आह्वान, 1700 नमाजी ज्ञानवापी पहुंचे
इससे पहले व्यास तहखाने में पूजा-पाठ शुरू होने से नाराज मुस्लिम पक्ष ने शुक्रवार को जुमे पर वाराणसी बंद का आह्वान किया। मस्जिदों में जुटने की अपील की थी। इसके बाद, शुक्रवार की नमाज में 1700 लोग नमाज पढ़ने ज्ञानवापी पहुंच गए। जबकि सामान्य तौर पर यहां 300 से 500 लोग पहुंचते थे। अंदर परिसर फुल होने के बाद पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था के चलते नमाजियों को बाहर ही रोक दिया।

पुलिस ने उनसे आसपास की मस्जिद में जाने की अपील की। पुलिस ने वहां अनाउंसमेंट भी कराया। मुस्लिम पक्ष ने भी लोगों से यह अपील की। कोर्ट द्वारा दर्शन पूजन की अनुमति मिलने के बाद आज पहला शुक्रवार। अंजुमन कमिटी के बंदे के ऐलान के बाद बड़ी संख्या में नमाजी ज्ञानवापी पहुंच रहे हैं।

3.5/5 - (2 votes)

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button