जबलपुरदेशमध्य प्रदेश

तेजी से फैल रहा कोविड का नया वैरिएंट जेएन 1, पर घबराने की नहीं ,सतर्क रहने की है जरूरत

जानें कोरोना के नए वैरिएंट के बारे में

NEW DELHI. कोरोना वायरस फिर से दुनिया में फैल रहा है। दुनियाभर के करीब 40 देशों में एक बार फिर कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। परेशानी की बात तो यह है कि भारत भी इससे अछूता नहीं है। पिछले 24 घंटों में भारत में कोरोना के 341 नए मरीज मिले। सबसे ज्यादा मामले केरल से मिले हैं। वहीं पिछले 2 हफ्तों में कोरोना से 16 लोगों की मौत हुई है। वहीं कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने सभी राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ बुधवार को एक बैठक की। सरकार ने कोविड को लेकर हाई लेवल मीटिंग की है और सभी अस्पतालों को भी अलर्ट रहने का निर्देश दिया है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

बैठक में यह हुए फैसले

कोविड के नए वेरिएंट जेएन. 1 के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इसके मामले सबसे पहले केरल और फिर तमिलनाडु में मिले थे, जिसके बाद कई अन्य जगहों पर भी संक्रमण फैलने की बात सामने आई है। जिस रफ्तार से कोरोना के नए वेरिएंट के मामले बढ़ रहे हैं, उसे देखते हुए लोगों की चिंता बढ़ गई है। बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने सभी राज्यों के स्वास्थ्य मंत्री को एक-दूसरे के साथ मिलकर काम करने को कहा। बैठक् में अस्पताल की तैयारियों पर भी बात की गई और यह तय किया कि सभी अस्पतालों में हर 3 महीने में एक बार मॉक ड्रिल होनी चाहिए। बैठक में यह बताया गया कि देश में नए वेरिएंट छ्वहृ1 के 21 मामले सामने आए हैं।

दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन के पूर्व प्रेसिडेंट और सीनियर फिजिशियन डॉ. अनिल बंसल के मुताबिक नए वेरिएंट का असर लोगों की इम्यूनिटी के अनुसार अलग-अलग तरीके से होता है। जो लोग पहले से किसी संक्रमण या गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं, उन्हें विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। ऐसे लोगों के लिए कोविड का नया वेरिएंट ज्यादा खतरनाक हो सकता है।
याद रखें प्रोटोकॉल
लोग भीड़भाड़ वाले इलाकों में न जाएं
शादी-विवाह या अन्य पार्टियों में शामिल होने से बचें और लोगों से हाथ न मिलाएं समय-समय पर साबुन से अपने हाथ धोएं और किसी भी चीज को छूने के बाद सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें।
बाहर निकलते वक्त मास्क लगाएं, ताकि वायरस हवा के जरिए आपको संक्रमित न कर सके।
अगर किसी व्यक्ति को कोविड के लक्षण नजर आएं या वह कोविड से संक्रमित हो, तो उसके संपर्क में आने से बचें, अगर संपर्क में आएं, तो तुरंत अपनी जांच करवाएं।
कोविड के लक्षण दिखने पर क्वालिफाइड डॉक्टर से मिलकर अपना इलाज कराएं। बिना डॉक्टर की सलाह के एंटीबायोटिक और स्टेरॉइड दवाएं लेना खतरनाक हो सकता है।

3.5/5 - (4 votes)

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button