ग्वालियरजबलपुरभोपालमध्य प्रदेशराज्य

जीतू पटवारी बोले- बीजेपी ने शिवराज को दरकिनार किया:भोपाल में कांग्रेस के प्रदर्शन में कहा- सांसदों का निलंबन तानाशाही है

लोकसभा और राज्यसभा से 146 सांसदों के निलंबन के विरोध में भोपाल में कांग्रेस ने धरना प्रदर्शन किया। रोशनपुरा चौराहा पर इस प्रदर्शन में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने कहा, बीजेपी ने चुनाव में शिवराज का चेहरा दिखाया और परिणाम के बाद सीएम बदल दिया। तीनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों के चयन की प्रक्रिया को देखें। क्या विधायकों को अपनी पसंद का मुख्यमंत्री चुनने का अधिकार नहीं है। शिवराज ने अपने वादे और विचार प्रदेश की जनता को बताए और उन्हें ही किनारे कर दिया गया।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

जीतू पटवारी ने कहा, विधानसभा और लोकसभा लोकतंत्र के मंदिर हैं। इसमें जनता की समस्याओं के समाधान को लेकर सवाल होते हैं। भाजपा ने इस ताकत को चकनाचूर किया है। इस अहसास को मैं जी सकता हूं। पिछले सत्र में मुझे जिस तरह से निलंबित किया गया, वह एक उदाहरण है। ये तानाशाही है।

कहा- सांसदों को केंद्र सरकार के इशारे पर निलंबित किया
भोपाल में प्रदर्शन में पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव भी मौजूद रहे। कांग्रेस ने केंद्र की भाजपा सरकार की नीतियों और सांसदों के निलंबन का विरोध किया। इंदौर में रीगल चौराहा पर कांग्रेस ने प्रदर्शन किया। कांग्रेस का कहना है कि केंद्र की भाजपा सरकार के इशारे पर 146 सांसदों का निलंबन किया गया है। लोकतंत्र की इस तरह की जा रही हत्या के विरोध में धरना-प्रदर्शन किया गया। इसमें पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव और पार्टी के पदाधिकारी भी पहुंचे थे।

जीतू पटवारी के साथ पीसी शर्मा और अरुण यादव भी धरना-प्रदर्शन में शामिल हुए।
जीतू पटवारी के साथ पीसी शर्मा और अरुण यादव भी धरना-प्रदर्शन में शामिल हुए।

जीतू पटवारी ने ईवीएम पर उठाए सवाल
पटवारी ने कहा, ईवीएम की वर्किंग पर सवाल उठ रहे हैं। लोकतंत्र में ईवीएम को लेकर कई लोगों ने कोर्ट में कई केस लगाए हैं। चुनाव परिणाम आने पर लोगों का विश्वास कम होने लगता है। यह सवाल भी उठ रहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी के 2014 में सत्ता में आने के बाद 500 से ज्यादा सांसद सस्पेंड हुए हैं।

पटवारी ने मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश डॉ. मोहन यादव को लेकर कहा, सीएम यादव ने संकल्प पत्र को गीता रामायण कहा है। उन्हें पता होना चाहिए कि पिछला संकल्प पत्र आधा भी पूरा नहीं हुआ है तो उनकी बात का कैसे भरोसा किया जाए।

मोहन सरकार का रिमोट दिल्ली के पास: उपनेता प्रतिपक्ष
उपनेता प्रतिपक्ष हेमंत कटारे ने कहा, मध्य प्रदेश केंद्र शासित प्रदेश बनने की ओर बढ़ चुका है। हमने स्पीकर पद के लिए समर्थन किया। डिप्टी स्पीकर पद की मांग की तो भाजपा नेताओं ने कहा, दिल्ली से बात करनी होगी। डॉ. मोहन यादव जी ज्यादा खुश ना हों, इस सरकार का रिमोट भी दिल्ली के पास है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने कहा, मायूस ना हों यह वक्त है, यह भी गुजर जाएगा। 2024 में हम एक नई इबारत लिखेंगे। पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कहा, भाजपा बताएं कि भगत सिंह ने जब संसद पार्लियामेंट में बम फेंका था वह सही था या गलत था। वह बताएं अंग्रेज शासन का उनको दंड देना सही था या गलत था। रोजगार नौजवानों ने अपने हक की आवाज उठाने के लिए यह काम किया है।

2/5 - (1 vote)

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button