जबलपुरभोपालमध्य प्रदेशराज्य

भाजपा में शामिल हुए आलोक चंसोरिया ने कांग्रेस छोडने पर दिया बयान: कांग्रेस अपने सिद्वांतों व नीतियो से भटकी इसलिए छोड़नी पड़ी पार्टी

जबलपुर,यशभारत। पूर्व सांसद सुरेश पचैरी के साथ भाजपा में शामिल हुए शहर के वरिष्ठ नेता आलोक चंसोरिया ने भाजपा में शामिल होने के एक नहीं कई कारण बताए। श्री चंसोरिया ने कहा कि जिन सिद्वांता और नीतियों से प्रभावित होकर काम करते थे अब मुझे विश्वास हो गया कि अब कांग्रेस अपने सिंद्वांतों से अलग हो गई है अब कांग्रेस नेता अपने हर उदबोधन में जात-पात की और देश को बांटने की बात करते हैं जबकि भाजपा देश को जोड़ने की बात करती है।

कांग्रेस नेताओं की शब्दावली ठीक नहीं
जिन सिद्धांतों को जिन नीतियों को जिन कार्यक्रमों के कारण प्रभावित होकर के हम लोग कांग्रेस में काम करते थे मुझे यह विश्वास हो गया कि आप कांग्रेस को नीति और इन सिद्धांतों को खो चुकी है । कांग्रेस नेता वर्ग को बांटने की बात करते हैं जबकि कांग्रेस के बड़े नेताओं में ऐसा नहीं था। आपने देखा भगवान राम हमारी अस्मिता के हमारी मर्यादा भारतीय संस्कृति के प्रतीक है मंदिर के पक्ष में तो कांग्रेस थी। राममंदिर आमंत्रण को लेकर कांग्रेस नेताओं ने जो शब्दावली का उपयोग उससे सब आहत है।
पिता जी समाजवादी थे, कोई अभिलाषा नहीं
भाजपा की सदस्यता लेने वाले अलोक चंसोरिया ने कहा कि पिता जी समाजवादी थे और मेरे कारण वह कांग्रेस में शामिल हुए थे। शुरूआत से लेकर अब तक किसी पद की अभिलाषा नहीं थी, भाजपा में शामिल होने का कारण किसी पद की इच्छा नहीं है, बस समाजसेवा करना चाहते हैं और कांग्रेस में रहकर ये नहीं कर पा रहे थे। भाजपा पार्टी जो दायित्व देगी उसे बेखूबी निभाकर लोगों की सेवा की जाएगी।

5/5 - (1 vote)

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button