मध्य प्रदेश

केंद्रीय मंत्री गडकरी ने जानी मंडला जबलपुर रोड की वास्तविक स्थिति

केबिनेट मंत्री संपतिया उइके ने केंद्रीय मंत्री गडकरी के समक्ष रखी क्षेत्र के समग्र विकास की मांग

मंडला। प्रदेश सरकार के राष्ट्रीय राजमार्ग एवं सड़क परिवहन मंत्री श्री नितिन गडकरी ने नागपुर में अपने आवास पर मुलाकात कर विकास कार्य मंडल सहित जिले के मंडल के प्रतिनिधियों से मुलाकात कर विकास कार्य के विषय में चर्चा की। इस पर श्रीमती उइके ने मंडला जिले के विभिन्न पुल, मार्ग, छात्रावास और खिलौना ओवर के निर्माण की मांग की, जिसमें जिलों की जन क्षमताओं को शामिल किया गया। इस दौरान लोक निर्माण परियोजना शैलेश मिश्रा सुपरवाइजर अग्निहोत्री राकेश जैन सचिन शर्मा, उपस्थित रहे। भाजपा जिला मीडिया प्रभारी कसार ने बताया कि केंद्रीय मंत्री श्रीमती उइके ने केंद्रीय मंत्री श्री बोबा को एक सहयोगी के रूप में राष्ट्रीय राजमार्ग 30 के अंतर्गत मंडला-जबलपुर मार्ग में चल रहे निर्माण कार्य की पूर्ति नहीं की है। उक्त कार्य पूर्ण और निर्धारित समय सीमा में पूर्ण कार्य के लिए आवश्यक खोज की तलाश की गई। साथ ही वर्तमान में बढ़ते ट्रैफिक को देखते हुए मंडला-जबलपुर मार्ग को चार लेन तक जाने और इस मार्ग के सभी पुलों के पुनर्निर्माण की मांग रखी। सेमरखापा, बिनिका, जंतीपुर, अंजनिया क्रशिंग पर प्रोटोटाइप ओवर और बीजाडांडी, बिछिया में दोस्ती की मांग की के लिए नेशनल हाईवे में प्लांटेशन को रोक दिया गया। उन्होंने केंद्रीय मंत्री श्री चेरी से नेशनल हाईवे 543 मंडला को बालाघाट और डिंडोरी जिले से प्रस्थान कराया। मंडला से डिंडोरी एवं मंडला से बालाघाट मार्ग को राष्ट्रीय राजमार्ग के पैमाने पर एवं इस मार्ग के लिए मंडला से जुड़े हुए लोगों को जाने का मौका दिया गया। साथ ही मंडला नगर और भूस्खलन ग्रामीण क्षेत्रों के बीच यातायात की सुविधा के लिए एनएच 30, एनएच 543 सहित अन्य राज्यमार्गों को जोड़ने के लिए करीब 50 किमी के रिंगरोड की आवश्यकता पर चर्चा की गई।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

बिछिया से समनापुर होते हुए डिंडोरी मार्ग और चिरडोंगरी हुए से कान्हा मार्ग का निर्माण करते हुए नव निर्माण की मांग की। इसके अतिरिक्त नवीनीकृत कार्यालय के नवीन बंजार पुल के नवनिर्माण, मंडला-महाराजपुर के बीच नर्मदा नदी पर नए पुल का निर्माण, पिंडराई-केवलारी मार्ग पर थांवर पुल और सुरखी से इंद्री के मध्य पुल की आवश्यकता पर चर्चा कर जिलेवासियों की विशेषज्ञतानुरूप मांगो को उद्यम प्रदान करना का आग्रह.
इसके साथ ही श्रीमती उइके ने केंद्रीय मंत्री से जिलों की आवश्यकताओं, स्कूलों और अन्य विकास कार्यों की संभावनाओं पर चर्चा की। मंत्री श्री कौशिक ने मंडला जिलों के निर्माण कार्यों की मांग एवं अन्य सभी विषयों पर तत्काल एवं आवश्यक सामग्री का परामर्श दिया।

Rate this post

Related Articles

Back to top button