जबलपुरदेशमध्य प्रदेश

भारत ने छोटे सपने देखना छोड़ दिया है, देश बड़े सपने देख रहा और पूरा करने में जुट गया है – पीएम मोदी

भोपाल, यशभारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर में 554 रेल परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इृसमें अमृत भारत रेलवे स्टेशन योजना के अंतर्गत रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास व ओवर ब्रिजों, अंडरपास का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया गया। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव सीहोर में शामिल हुए। मध्य प्रदेश के अन्य स्थानों पर भी इस अवसर पर कार्यक्रम आयोजित किए गए। प्रधानमंत्री इस कार्यक्रम में वर्चुअच शामिल हुए हैं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज भारत ने छोटे-छोटे सपने देखना छोड़ दिया है। हम बड़े सपने देखते हैं और पूरे करने के लिए दिन रात एक कर देते हैं। यही संकल्प इस विकसित भारत, विकसित रेलवे कार्यक्रम में दिख रहा है।

पीएम ने आगे कहा कि देश में तेजी से काम हो रहा है। आज एक साथ रेलवे से जुड़ी दो हजार से अधिक परियोजनाओं का शिलान्यास-लोकार्पण हुआ है। अभी तो इस सरकार के तीनसरे टर्म की शुरुआत जून से शुरू होने वाली है। अभी से जिस स्पीड से काम हो रहा है। वो सबको हैरत में डालने वाली है।
सबसे पहले मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने संबोधित किया। उन्होंने इस अवसर पर वंदे भारत एक्सप्रेस और मेट्रो ट्रेन का उल्लेख किया। उन्होंने नई सौगातों का भी उल्लेख किया। उन्होंने आशा जताई कि डबल इंजन की सरकार देश और प्रदेश का बेहतर विकास करेगी।केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने स्वागत संबोधन दिया। उन्होंने इसे रेलवे के लिए सबसे बड़ा कार्यक्रम बताते हुए कहा कि यह अभूतपूर्व है। केंद्रीय रेल मंत्री ने कहा कि वंदे भारत ट्रेन आज विश्व स्तर की रेल यात्रा का आनंद दे रही है। वैष्णव ने इस अवसर पर अमृत भारत स्टेशन योजना का भी उल्लेख किया।पीएम मोदी के पूछने पर बताया गया कि देश के दो हजार 21 स्थानों पर यह कार्यक्रम हो रहा है। इसमें कितने जनप्रतिनिधि जुड़े हैं इसकी जानकारी भी दी गई।इस मौके पर रेलवे पर आधारित एक लघु फिल्म का भी प्रदर्शन किया गया।

Rate this post

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button