जबलपुरदेशमध्य प्रदेशराज्य

आज खुल जाएंगी किसानआंदोलन की गांठ किसान नेता बोले- केंद्र को आवाज सुननी पड़ेगी, अन्यथा जो होगा ठीक नहीं होगा

नई दिल्ली, अंबाला, एजेंसी। पंजाब के किसानों के दिल्ली कूच का आज (15 फरवरी) तीसरा दिन है। किसानों के विरोध के बीच केंद्र सरकार और किसान संगठनों के बीच आज तीसरे दौर की बातचीत होगी। इससे पहले 8 और 12 फरवरी को हुई दोनों बैठकें बेनतीजा रही थीं। सरकार की तरफ से एमएसपी पर कानून बनाने की घोषणा से इनकार करने पर बातचीत में नतीजा नहीं निकला था। इसके बाद केंद्र ने किसान नेताओं को तीसरे दौर की वार्ता के लिए आमंत्रित किया है।फसलों के लिए रूस्क्क की गारंटी समेत बाकी मांगें पूरी कराने के लिए वह हरियाणा के शंभू बॉर्डर पर डटे हुए हैं। यहां हरियाणा पुलिस ने 7 लेयर की बैरिकेडिंग और आंसू गैस के गोले छोड़कर 3 दिन से किसानों को रोका हुआ है।
हरियाणा से लगते पंजाब के खनौरी और डबवाली बॉर्डर भी तीन दिन से बंद हैं। उधर, आंदोलन को खत्म करवाने के लिए आज फिर 3 केंद्रीय मंत्री चंडीगढ़ में किसान नेताओं से मीटिंग करेंगे। 7 दिनों में दोनों पक्षों के बीच ये तीसरी मीटिंग होगी।
इस बीच, किसान नेता सरवण सिंह पंधेर ने कहा- केंद्र को आवाज सुननी पड़ेगी, अन्यथा जो होगा ठीक नहीं होगा। हमारी आज केंद्रीय मंत्रियों के साथ मीटिंग है और हम चाहते हैं कि पीएम मोदी उनसे बातचीत करें ताकि हम अपनी मांगों के समाधान तक पहुंच सकें।

Rate this post

Related Articles

Back to top button