इंदौरग्वालियरजबलपुरभोपालमध्य प्रदेशराज्य

कई बार चेताने के बाद भी स्मार्ट सिटी, पीडब्ल्यूडी और फ्लाई ओवर निर्माता कंपनी अपनाए रही उदासीन रवैया

फ्लाई ओवर बना जनता के लिए मुसीबत
जगह-जगह भर रहा पानी, राहगीरों को उठानी पड़ रहीं समस्याएं

जबलपुर,यशभारत। बारिश शुरू भी नहीं हुई थी उस समय से जनप्रतिनिधियों सहित क्षेत्रीयजनों के द्वारा स्मार्ट सिटी, पीडब्ल्यूडी विभाग और फ्लाई ओवर निर्माण करने वाली कंपनी को जलभराव की स्थिति से अवगत लगातार कराया जा रहा था। बावजूद इसके जिम्मेदारों द्वारा फ्लाई ओवर निर्माण के दौरान उस सड़क का निर्माण नहीं कराया गया जिससे बारिश के समय जनता आराम से सड़क पर चल सके। तेज बारिश में रानीताल के पास फ्लाई ओवर के नीचे जलभराव हो रहा है जिससे राहगीरों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। रानीताल के रहवासियों और राहगीरों का कहना है कि शासकीय विभागों के बीच तालमेल और आपसी समन्वय की कमी के परिणाम के कारण फ्लाई ओवर का अधूरे निर्माण हुआ है जिस कारण जनता बहुत परेशान हो रही है।

11 5

शर्त को भी नहीं किया गया पूरा

निर्माणाधीन सड़क पर जनता के लिए चलने लायक सड़क मुहैया कराने की शर्त भी फ्लाई ओवर निर्माण कर रही कंपनी के सामने रखी गई थी लेकिन कंपनी ने इसका पालन नहीं किया है जिसका खामियाजा जनता भुगत रही है।

मदनमहल से दमोहनाका के हालात दयनीय

पहली ही बारिश में मदनमहल से लेकर दमोहनाका तक की जर्जर सड़क के हिस्सों और अधूरे नालों के कारण हालात इन दिनों बहुत बिगड़ गए हैं। फ्लाई ओवर निर्माण कंपनी और स्मार्ट सिटी, पीडब्ल्यूडी विभाग की लापरवाही का परिणाम आज जनता भुगत रही है।

इन क्षेत्रों में पहले कभी नहीं भरा पानी लेकिन इस बार भरा

जानकारी के अनुसार चेरीताल, जगदंबा कॉलोनी, दीक्षितपुरा, बल्देवबाग, पारिजात बिल्डिंग के पीछे के कई हिस्सों में पहली ही बारिश में जलभराव की स्थिति निर्मित हो गई है। जबकि पहले बारिश के समय इन क्षेत्रों में कभी पानी नहीं भरता था। क्षेत्रीय लोगों की माने तो क्षेत्र के अधूरे नाले निर्माण और समय पर नालियों की सफाई नहीं करने से ये स्थिति निर्मित हुई है।

Rate this post

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button