इंदौरग्वालियरजबलपुरभोपालमध्य प्रदेशराज्य

डिंडोरी एसडीएम का हत्यारा निकला पतिः तकिए से मुंह दबाकर की गई हत्या

डिंडौरी जिले के शहपुरा में पदस्थ महिला SDM निशा नापित की हत्या उसके पति मनीष शर्मा ने की थी। उसने तकिए से मुंह दबाकर पत्नी को मार डाला। पुलिस इस मामले में 24 घंटे में खुलासा कर दिया है। आईजी बालाघाट मुकेश श्रीवास्तव ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस पूरे मामले की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि सबूत को छिपाने के लिए पति ने घटना के बाद कपड़ों को वाशिंग मशीन में धुलने डाला और सुखाया भी है। आईजी के मुताबिक पुलिस को मिले सबूत के आधार पर पति मनीष शर्मा (45) के खिलाफ कई धाराओं में केस दर्ज कर हिरासत में ले लिया गया है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

रविवार दोपहर को हुई थी संदिग्ध मौत

SDM निशा नापित की रविवार दोपहर को संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई थी। एसडीएम के पति मनीष शर्मा ने पहले बताया था कि सीने में दर्द उठने के बाद उन्हें अस्पताल लेकर पहुंचे थे। यहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया था। पोस्टमॉर्टम करने वाले डॉक्टर रत्नेश द्विवेदी ने बताया कि निशा को जब अस्पताल लाया गया था, उससे चार-पांच घंटे पहले ही उनकी मौत हो चुकी थी।

पति ने ये बताई थी SDM पत्नी की मौत की कहानी

SDM निशा के पति मनीष शर्मा का कहना है कि मैडम का एक ही गुर्दा काम करता था। उनको सर्दी-खांसी की बहुत दिक्कत रहती थी। शनिवार को उनका व्रत था और वे अमरूद खा रही थीं। मैंने मना किया फिर भी वे दो अमरूद खा गईं। 10 बजे के आसपास उनको उल्टी हुई। फिर उनकी नाक से ब्लड आया। हमारी बहस भी हुई। वो नहीं मानीं, गुस्से में सो गईं तो मैं भी गुस्से में बाहर आ गया।

रविवार को कोई काम रहता नहीं, इसलिए मैंने जगाया ही नहीं। दस बजे काम वाली बाई आई तो मैं घूमने चला गया। फिर बाई आई और खाना बनाया। बाई चली गई। फिर बाबा आया। लाइट भी नहीं थी। कल कटौती बहुत हुई, इसलिए बाबा भी लौट गया। फिर दो बजे के आसपास मैंने सोचा जगा लूं मैडम को। वे नहीं जागीं तो सीपीआर दिया। तीन बजे के आसपास ड्राइवर को फोन लगाया, वो डॉक्टर को लेकर आया। डॉक्टर ने कहा, अस्पताल ले चलो। अस्पताल में उन्होंने सीपीआर दिया। उन्होंने कहा- हाइपरटेंशन या फिर ब्रेन हेमरेज की वजह से नाक से खून निकलता है।

3.6/5 - (12 votes)

Related Articles

Back to top button