जबलपुरमध्य प्रदेशराज्य

प्रेग्नेंसी के दौरान डेंटल हाइजीन जरूरी: डॉ. धवल खरे: यशभारत से साझा किए अनुभव और चिकित्सीय परामर्श

 

जबलपुर,यशभारत। प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं के शरीर में कई हार्मोनल बदलाव आते हैं। इनकी वजह से मसूड़ों व दांतों की समस्या भी होती है। ऐसे में दांतों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। आपके मुंह व दांतों की सफाई न केवल आपको बल्कि गर्भ में पल रहे आपके बच्चे को भी स्वस्थ रखेगी। यह कहना है डॉ. धवल खरे का। डॉ. धवल खरे ने यशभारत से अपने अनुभव और चिकित्सीय परामर्श कुछ इस तरह व्यक्त किए।

—-नियमित डेंटल चेक-अप बेहद एक्सपर्ट बताते हैं कि यह हम सभी को मालूम है कि एक्सरे से हार्मफुल रेडिएशन निकलता है जो की मां और बच्चे को नुकसान पहुंचा सकता है। ओवुलेशन के बाद जब एक फर्टिलाइज हो जाता है और भ्रूण बनने की प्रक्रिया शुरू होती है, तब अगर हाई रेडिएशन वाला एक्स-रे किया जाए तो बच्चे को काफी नुकसान पहुंच सकता है। है। यह सुनिश्चित करें कि अपने डॉक्टर को आपने बताया हो कि आप प्रेग्नेंट हैं या फिर प्रेग्नेंसी के लिए ट्राय कर रही हैं ताकि डॉक्टर आपको जो भी दवाएं दे वह आपके लिए और आपके बच्चे के लिए सुरक्षित हों।

— मुंह में बन रहे प्लाक की समस्या को कम करने के लिए आप अपने डॉक्टर से माउथवॉश के बारे में पूछ सकती हैं। दिन में एक बार इसके इस्तेमाल से अपने मुंह को साफ रखने में आपको काफी मदद मिल सकती है।

—आपको दांतों में ब्रश करने में दर्द महसूस हो सकता है। इस लिए आपको बेहद नरम ब्रिसल वाले टूथब्रश से बेहद धीमी गति से दांतों को और मसूड़ों को साफ करना चाहिए।

रेडिएशन वाले एक्सरे से रहें दूर
डॉ.धवल खरे बताते हैं कि यह हम सभी को मालूम है कि एक्सरे- से हार्मफुल रेडिएशन निकलता है जो की मां और बच्चे को नुकसान पहुंचा सकता है। ओवुलेशन के बाद जब एक फर्टिलाइज हो जाता है और भ्रूण बनने की प्रक्रिया शुरू होती है, तब अगर हाई रेडिएशन वाला एक्स-रे किया जाए तो बच्चे को काफी नुकसान पहुंच सकता है।

Rate this post

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button