छत्तीसगढ़राज्य

रायपुर के निजी अस्पताल में लगी आग, कोरोना संक्रमित पांच मरीजों की दर्दनाक मौत

रायपुर
छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के एक निजी अस्पताल में शनिवार को आग लगने से कोरोना वायरस से संक्रमित पांच मरीजों की मौत हो गई। रायपुर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव ने शनिवार को बताया कि शहर के पचपेड़ी नाका क्षेत्र में स्थित राजधानी अस्पताल में शनिवार शाम आग लगने से पांच मरीजों की मृत्यु हो गई है। मृतकों में तीन महिलाएं शामिल हैं।

यादव ने बताया कि आज शाम राजधानी अस्पताल में अचानक आग लगने की सूचना पर पुलिस दल और दमकल वाहनों को घटनास्थल रवाना किया गया। उन्होंने बताया कि आग पर काबू पा लिया गया है। इस घटना में एक मरीज की जलने से तथा चार अन्य मरीजों की दम घुटने से मौत हुई है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि राजधानी अस्पताल में कोरोना वायरस संक्रमित 34 मरीज भर्ती थे। जिस वार्ड में आग लगी उस वार्ड में नौ मरीजों को रखा गया था। आग लगने के बाद अन्य मरीजों को वहां से निकाला गया, लेकिन पांच मरीजों को नहीं बचाया जा सका।

उन्होंने बताया कि अस्पताल में भर्ती मरीजों को शहर के अन्य अस्पतालों में भर्ती कराया जा रहा है। यादव ने बताया कि आग लगने के कारणों के बारे में जानकारी नहीं मिली है। मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद ही इस संबंध में अधिक जानकारी मिल सकेगी।

वहीं, राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने घटना पर शोक जताया है तथा मृत मरीजों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये की सहायता देने की घोषणा की है। राज्य के जनसंपर्क विभाग के अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री बघेल ने इस घटना को बेहद दुर्भाग्यपूर्ण बताया है।

उन्होंने शोक संतप्त परिवार के परिजनों के प्रति अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त की है। अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री ने इस हादसे में मृत लोगों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की है। उन्होंने बताया कि दुर्घटना की सूचना मिलते ही जिले के कलेक्टर डॉक्टर एस भारतीदासन और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव घटनास्थल पहुंच गए हैं।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button