जबलपुरमध्य प्रदेश

रानी अवंती बाई लोधी के जीवन से राष्ट्र प्रेम, त्याग और बलिदान की प्रेरणा लें – कुलसचिव डॉ शक्ति जैन

 

सागर यश भारत ( संभागीय ब्यूरो) / स्वतंत्रता संग्राम की वीरांगना रानी अवंती बाई लोधी की पुण्यतिथि पर रानी अवंती बाई लोधी विश्वविद्यालय की कुलसचिव डॉ श्रीमती शक्ति जैन की अध्यक्षता में विवि परिसर के सभागार में स्मरण कार्यक्रम का आयोजन कर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किए गए।

 

कार्यक्रम के प्रारंभ में कुल सचिव डॉ श्रीमती शक्ति जैन, कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय की प्रभारी प्राचार्य डॉ गोपा जैन, उच्च शिक्षा विभाग की ओएसडी डॉ भावना यादव तथा महाविद्यालय की प्रशासनिक अधिकारी डॉ इमराना सिद्दीकी आदि ने वीरांगना अवंती बाई के चित्र पर पुष्पमाला अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि दी। कार्यक्रम का संचालन डॉ रंजना मिश्रा तथा आभार प्रदर्शन डॉ संदीप सबलोक ने किया।

 

स्मरण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कुलसचिव डॉ श्रीमती शक्ति जैन ने कहा कि सागर के लिए यह गर्व की बात है कि देश की आजादी के लिए अपने प्राण न्योछावर करने वाली रानी अवंती बाई लोधी के प्रति कृज्ञता रखने के लिए सागर के नए विवि का नामकरण शासन ने उनके नाम पर किया है। उन्होंने कहा कि हम सब मिलकर इस विवि के मध्यम से विद्यार्थियों को वीरांगना रानी अवंतीबाई के जीवन से राष्ट्र प्रेम, त्याग और बलिदान की प्रेरणा देने का काम करेंगे। कार्यक्रम के प्रारंभ में डॉ रंजना मिश्रा ने रानी अवंती बाई के जीवन पर प्रकाश डाला।

स्मरण कार्यक्रम में प्रमुख रूप से डॉ संगीता मुखर्जी, डॉ प्रतिभा जैन, डॉ जयकुमार सोनी, डॉ अभिलाषा जैन, डॉ संगीता कुंभारे, डॉ शुचिता अग्रवाल, डॉ राणा कुंजर, डॉ अंकुर गौतम, डॉ संदीप तिवारी, डॉ अंजलि तिवारी, डॉ सबीहा ताबीर, प्रतीक्षा जैन, रश्मि दुबे, रोशनी चौधरी, भानुप्रिया पटेल, कनिष्क तिवारी, अनमोल जैन, राकेश सैनी, प्रमोद सेन, वसुंधरा पहारिया, संतोष सेन, लक्ष्मी मिश्रा समेत शैक्षणिक स्टॉफ की उपस्थिति रही।

Rate this post

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button