जबलपुरमध्य प्रदेशराज्य

कार में घूम-घूमकर आईपीएल क्रिकेट का सट्टा खिलाते हुए 2 सटोरिए गिरफ्तार

 

जबलपुर,यशभारत। आईपीएल में गुजरात और पंजाब के बीच चल रहे क्रिकेट मैच में हार-जीत का मोबाइल के जरिए दांव लगवा रहे दो सटोरियों और सट्टा खेलते हुए 1 सटोरिए को माढ़ोताल और हनुमानताल पुलिस ने क्राइम ब्रांच के साथ मिलकर गिरफ्तार किया है। माढ़ोताल टीआई रीना पांडे ने बताया कि ग्रीन सिटी में स्विफ्ट कार क्रमांक एमपी 20 सी.के. 1938 में घूम-घूमकर गुजरात और पंजाब के बीच चल रहे आईपीएल मैच में सट्टा खिलवा रहे विक्रांत उर्फ राजू बुंदेला 52 वर्ष निवासी ग्रीनसिटी, नितिन ठाकुर 41 वर्ष निवासी त्रिमूर्ति नगर गोहलपुर को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से 24 हजार 500 रूपये नगद, विभिन्न कम्पनियों के 6 मोबाइल, लाखों रुपयों की लगाई- खाई बाजी के हिसाब लिखी एक कॉपी, स्विफ्ट कार और आरोपी नितिन ठाकुर के कब्जे से 3500 रूपये , एमआई कम्पनी का मोबाइल जप्त किया गया है।

61289b66 5558 44d6 a477 17d0cd5f5658

पूछताछ में विक्रांत, नितिन ठाकुर ने पुलिस को बताया कि राकेश निवासी पिपरिया होशंगाबाद से उसने लाइन लेकर सट्टा खिलवा रहा था। पुलिस ने राकेश के खिलाफ भी अपराध कायम कर उसकी तलाश शुरू कर दी है। सटोरियों को पकड़ने में माढ़ोताल टीआई रीना पांडे, उप निरीक्षक नेतराम चौधरी, राजेंद्र अहिरवार , क्राइम ब्रांच के सहायक उप निरीक्षक धनंजय सिंह, प्रधान आरक्षक बृजेन्द्र सिंह कंसाना, आरक्षक मोहित उपाध्याय, वीरेन्द्र सिंह की अहम भूमिका रही।

32fd1a28 f444 487a a742 b63185fa5450


स्काय-1 एप से मोबाइल में लगा रहा था सट्टा, गिरफ्तार
हनुमानताल पुलिस ने मोबाइल में ऑनलाइन सट्टा खेलते हुए एक सटोरिए को गिरफ्तार किया है। हनुमानताल पुलिस ने बताया कि बीती देर रात मुखबिर से सूचना मिली कि शिवा नाम का व्यक्ति अनवरगंज मैदान में अपने मोबाइल से ऑनलाइन सट्टा डाउनलोड कर आईपीएल मैच में हार-जीत का दांव लगाकर ऑनलाइन सट्टा खेल रहा है। जिसके बाद पुलिस ने उस स्थान पर दबिश दी। पुलिस को आता देख शिवा सोनकर 24 वर्ष निवासी प्रेमसागर वंशकार मोहल्ला ने भागने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने पीछा करके उसे दबोच लिया। पुलिस ने जब शिवा का मोबाइल चैक किया तो उसमें स्काय-1 एप खुला मिला जिसमें आईपीएल में क्रिकेट सट्टा चालू था। पूछताछ में शिवा ने पुलिस को बताया कि उसने बलराम कछवाहा ने स्काय-1 एप लिया था जिसे मोबाइल जैसे रिचार्ज करना पड़ता था। पुलिस ने बलराम के खिलाफ अपराध कायम कर उसकी तलाश शुरू कर दी है। सटोरिए को एप के माध्यम से ऑनलाइन सट्टा खेलते हुए हनुमानताल टीआई उमेश गोल्हानी,प्रधान आरक्षक महेन्द्र विष्ट, अजय डबराल, सुधीर ठाकुर, गौरव तिवारी, आरक्षक ब्रजेश त्रिपाठी की अहम भूमिका रही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button