जबलपुरदेशमध्य प्रदेशराज्य

‘आप पेटीएम परिवार का हिस्सा…चिंता की बात नहीं’ Paytm संकट पर बोले CEO- कोई छंटनी नहीं होगी!

आरबीआई (RBI) की सख्ती के बाद ऑनलाइन पेमेंट सर्विसेज देने वाली कंपनी पेटीएम इस समय भारी संकट (Paytm Crisis) के दौर से गुजर रही है. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की ओर से इसकी बैंकिंग शाखा (Paytm Paymet Bank) पर बैन लगाए जाने के बाद से कंपनी के शेयरों में जोरदार गिरावट आई है और महज 3 दिन में ये 43% से ज्यादा गिर (Paytm Share Fall) चुके हैं. इस संकट के बावजूद पेटीएम की ओर से ना केवल अपने यूजर्स को भरोसा दिलाया गया है, बल्कि कंपनी के कर्मचारियों से भी चिंता ना करने की बात कही है.

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

जल्द सब कुछ सुलझा लेंगे…’
पेटीएम के फाउंडर और सीईओ (Paytm Founder CEO) विजय शेखर शर्मा (Vijay Shekhar Sharma) ने कथित तौर पर अपने कर्मचारियों को इस संकट भरे समय के बीच भी बड़ा आश्वासन दिया है. बिजनेस टुडे पर छपी मनी कंट्रोल की रिपोर्ट के मुताबिक, पेटीएम सीईओ ने कहा है कि वास्तव में क्या गलत हुआ है, उन चीजों को लेकर वे पूरी तरह से आश्वस्त नहीं है, लेकिन जल्द ही सब कुछ सुलझा लिया जाएगा. ये आश्वासन विजय शेखर शर्मा ने वर्चुअल टाउन हॉल के दौरान दिया है.

पेटीएम CEO बोले- छंटनी नहीं होगी
रिपोर्ट के मुताबिक, इस टाउनहॉल में पेटीएम फाउंडर के साथ कंपनी के प्रेसिडेंट और सीओओ भावेश गुप्ता के अलावा Paytm Payment Bank CEO सुरिंदर चावला भी मौजूद थे. इस बीच विजय शेखर शर्मा ने कहा कि कंपनी में कोई छंटनी नहीं होगी और हम RBI के साथ लगातार बातचीत कर रहे हैं. इसके साथ ही पेटीएम साझेदारी के लिए अन्य बैंकों के साथ भी काम कर रहा है. उन्होंने आगे अपने कर्मचारियों को आश्वस्त करते हुए कहा कि ‘आप सभी पेटीएम परिवार (Paytm Family) का हिस्सा हैं और चिंता की कोई बात नहीं है.’

31 जनवरी को RBI ने दिया था आदेश
बीते 31 जनवरी 2024 को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने एक ऑडिट रिपोर्ट और बाहरी ऑडिटर्स के द्वारा सत्पापित रिपोर्ट्स के बाद पेटीएम की बैंकिंग सर्विस में गैर अनुपालन और मैटेरियल सुपरवाइजरी चिंताओं के बीच Paytm Payment Bank की सेवाओं पर बैन लगाने का आदेश जारी किया था. केंद्रीय बैंक ने अपने आदेश में कहा था कि ये आदेश 29 फरवरी के बाद से लागू होने जा रहा है. इसके बाद पेटीएम पेमेंट बैंक ना तो नए ग्राहक जोड़ सकेगा और ना ही PPBL को इस तय तारीख के बाद किसी भी ग्राहक खाते, वॉलेट और FASTag में डिपॉजिट/टॉप-अप स्वीकारने का अधिकार नहीं होगा. RBI ने ये एक्शन बैंकिंग रेगुलेशन एक्ट-1949 के सेक्शन 35A के तहत लिया है. रिजर्व बैंक ने 15 मार्च तक पेटीएम को नोडल अकाउंट सेटल करने के लिए आदेशित किया है.

ED की जांच से साफ इनकार
Paytm की पेरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशन लिमिटेड (One97 Communication Ltd) की ओर से 4 फरवरी 2024 को एक फाइलिंग में उन खबरों को सिरे से खारिज किया गया है, जिनमें मनी लॉन्ड्रिंग (Money Laundring) एक्टिविटीज के लिए पेटीएम फाउंडर और कंपनी पर प्रवर्तन निदेशालय (ED) द्वारा जांच की बात कही गई है. कंपनी की ओर से साफ इनकार करते हुए कहा गया है कि कोई जांच नहीं की गई है. फाइलिंग में कहा गया है कि अतीत में, हमारे प्लेटफॉर्म पर कुछ व्यापारी/यूजर्स पूछताछ के अधीन रहे हैं और उन अवसरों पर हमने हमेशा अधिकारियों के साथ सहयोग किया है. जिसका खुलासा पहले भी किया जा चुका है.

बहरहाल, RBI के एक्शन के बाद से पेटीएम के शेयरों में जो गिरावट का सिलसिला शुरू हुआ है, उसके बीच Paytm Share बीते तीन दिन में ही 43% तक टूट चुके हैं. सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार को शेयर बाजार (Share Market) ओपन होने के साथ ही इसमें 10 फीसदी का लोअर सर्किट लग गया और ये 438.50 रुपये पर आ गए. कंपनी का मार्केट कैपिटलाइजेशन (Paytm MCap) भी गिरकर अब 27850 करोड़ रुपये रह गया है.

5/5 - (2 votes)

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button