जबलपुरदेशभोपालमध्य प्रदेशराज्य

टी अदालतों में बुनियादी ढांचे को बढ़ाने में मदद मिलेगी, राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा के नेतृत्व में न्यायिक बुनियादी ढांचे पर संसदीय स्थायी समिति के सदस्यों की तेलंगाना सीएम रेड्डी से मुलाकात

राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा के नेतृत्व में न्यायिक बुनियादी ढांचे पर संसदीय स्थायी समिति के सदस्यों की तेलंगाना सीएम रेड्डी से मुलाकात

हैदराबाद, यशभारत। हैदराबाद, एजेंसी। मुख्यमंत्री ए रेवंत रेड्डी ने मंगलवार को कहा कि राज्य सरकार तेलंगाना की सभी अदालतों में न्यायिक बुनियादी ढांचे के उन्नयन में मदद करेगी। उन्होंने यह आश्वासन उस समय दिया जब न्यायिक बुनियादी ढांचे पर संसदीय स्थायी समिति के सदस्यों ने यहां उनसे मुलाकात की। समिति के सदस्यों ने (राज्यसभा और लोकसभा सांसदों ) दल के सदस्यों ने संसदीय समिति के चेयरपर्सन राज्यसभा सांसद विवेक कृष्ण तन्खा के नेतृत्व में तेलंगाना राज्य के मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री रेवन्त रेड्डी से हैदराबाद में सौजन्य भेंट की। इस दौरान तेलंगाना के मुख्यमंत्री ने सपत्नीक समिति के सदस्यों का गर्मजोशी से स्वागत किया।श्री तन्खा के साथ संसद की स्थाई समिति के सदस्य वंदना चौहान ,कनक मंडेला, लोकसभा सांसद दर्शन सिंह ,डीएमके सांसद पी विल्सन, वीणा देवी ,जसवीर सिंह, रघुराजू ,केआर सुरेश रेड्डी संसद की स्थाई समिति के सदस्य शामिल रहे।सभी सदस्यों ने तेलंगाना हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस न्यायमूर्ति श्री आलोक अराधे व वरिष्ठ जजों के अलावा बार एसोशियेशन से भी मुलाकात की।
हैदराबाद में सभी से हुई बहुत अच्छी चर्चा
इस दौरान चेयरपर्सन राज्यसभा

01 सांसद विवेक कृष्ण तन्खा व समिति के सदस्यों ने तेलंगाना के मुख्य सचिव के साथ वरिष्ठ अधिकारियों से भी सौजन्य भेंट की। डीओपीटी और कानून एवं न्याय की स्थायी समिति के साथ तेलंगाना और पीएसयू और बैंकों जैसे मुख्य सचिव और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ अच्छी बातचीत हुई। सांसद श्री तन्खा ने भेंट पर प्रसन्नता जताते हुए कहा कि हैदराबाद में सभी से बहुत अच्छी चर्चा हुई।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!
Rate this post

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button