जबलपुर

लोकसभा चुनाव: सिवनी जिले से आईं 1200 बैलेट यूनिट

चुनावी मैदान में हैं 19 प्रत्याशी , प्रत्येक बूथ पर लगाई जाएंगी दो बैलेट यूनिट , कल बुजुर्ग- दिव्यांगों के वोट देने से होगा लोकसभा चुनाव का आगाज

 

 

जिला प्रशासन तैयारियों में जुटा

जबलपुर,यशभारत। लोकसभा चुनाव की तारीख 19 अप्रैल नजदीक है और जिला प्रशासन अपने स्तर पर तैयारियों में जुटा है। करीब 5 दिन पहले जो जबलपुर जिले में 1 हजार बैलेट यूनिट की कमी थी उसे भारत निर्वाचन आयोग ने पूरा कर दिया है। आयोग के निर्देश पर सिवनी जिले से 1200 बैलेट यूनिट जबलपुर जिले प्राप्त हो चुकीं हैं। इसकी पुष्टि जिला निर्वाचन अधिकारी व कलेक्टर दीपक सक्सेना ने यशभारत को बताया कि लोकसभा चुनाव को देखते हुए बैलेट यूनिट की पर्याप्त व्यवस्था हो चुकी है। सिवनी जिले से मिलीं बैलेट यूनिट के बाद अब ये समस्या खत्म हो चुकी है। इस बार लोकसभा चुनाव के मैदान में 19 प्रत्याशी उतरे हैं इसके लिए दो बैलेट यूनिट प्रत्येक बूथों पर लगाई जाएंगीं। विदित हो कि कलेक्टर ने भारत निर्वाचन आयोग से गत 30 अप्रैल को मांग की थी कि जबलपुर जिले में 1 हजार बैलेट यूनिट की कमी है।

बुजुर्ग- दिव्यांगों के वोट देने से शुरू होगा लोकसभा चुनाव का आगाज

कल से शुरू होगी प्रक्रिया, मतदान दल पहुंचेंगे घर-घर
लोकसभा चुनाव का आगाज शुक्रवार यानि 5 अप्रैल से जबलपुर जिले में दिव्यांगों, 85 साल से अधिक उम्र के मतदाताओं की वोटिंग से होने जा रहा है। जिला निर्वाचन अधिकारी व कलेक्टर दीपक सक्सेना ने यशभारत को बताया कि अभी तक जिला प्रशासन के पास बुजुर्ग व दिव्यांगों के पोस्टल बैलेट के 1400 आवेदन आए हैं। घर-घर जाकर बुजुर्गों व दिव्यांगों से वोट डलवाने के लिए टीम का गठन कर दिया गया है। ये सिलसिला 5 अप्रैल से जबलपुर जिले में शुरू होगा। कलेक्टर के अनुसार जिले के दिव्यांग व 85 साल से अधिक के मतदाताओं को 5, 6 अप्रैल के बाद 8 और 9 अप्रैल को भी अपने मत का प्रयोग करने का मौका मिलेगा। ये पूरी प्रक्रिया मतदान दल बुजुर्गों व दिव्यांगों के घर जाकर संपन्न कराएंगें।

9 को जबलपुर आएंगे मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी
कलेक्टर दीपक सक्सेना के अनुसार प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन 9 अप्रैल को जबलपुर आएंगे । यहां वे 6 जिलों के अधिकारियों की बैठक लेंगे और निर्वाचन संबंधी तैयारियों पर चर्चा करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश देंगे।

मतदान केंद्रों के लिए 2352 मतदान दलों का किया गया गठन
लोकसभा चुनाव को संपन्न कराने 2139 मतदान केंद्रों के लिए 2352 मतदान दलों का गठन जिला निर्वाचन अधिकारी व कलेक्टर दीपक सक्सेना द्वारा कर दिया गया है। मतदान को संपन्न कराने नियुक्त अधिकारी-कर्मचारियों का प्रशिक्षण 7 अप्रैल से 12 अप्रैल तक पीएसएम और मॉडल हाई स्कूल में चलेगा।

आचार संहिता के उल्लंघन की सामने आईं 214 शिकायतें

कलेक्टर के निर्देश पर 201 शिकायतों का अब तक हुआ निराकरण

लोकसभा चुनाव में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की 214 शिकायतें जिला प्रशासन के सामने आईं हैं जिनमें से 201 शिकायतों का अभी तक निराकरण किया जा चुका है। जिला निर्वाचन अधिकारी व कलेक्टर दीपक सक्सेना ने यशभारत को जानकारी देते हुए बताया कि लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए आगे भी किसी के द्वारा आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया जाएगा तो उसके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई निश्चित की जाएगी। जिला प्रशासन का मकसद लोकसभा चुनाव को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराना है।

Rate this post

Related Articles

Back to top button