जबलपुरदेशमध्य प्रदेश

जबलपुर में व्यापारियों के संगठन कैट की PM से मांग, घोषित हो राष्ट्रीय अवकाश, सदैव मने राम राज्य दिवस

जबलपुर, यशभारत। 22 जनवरी को अयोध्या में रामजन्म भूमि पर बन रहे मंदिर में भगवान की प्राणप्रतिष्ठा के समारोह से जहां हर सनातनी गदगद है, वहीं व्यापारी भी इससे अछूते नहीं हैं। यही कारण है कि देश के व्यापारियों के संगठन कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स यानि कैट ने पीएम मोदी को मांग पत्र प्रेषित करते हुए 22 जनवरी को राष्ट्रीय अवकाश घोषित करने और हर साल इस दिन राम राज्य दिवस मनाने की मांग कर दी है। संगठन के पदाधिकारियों का कहना है कि भारतीय इतिहास के सबसे महान क्षणों में से एक राम मंदिर में भगवान की प्राण प्रतिष्ठा के इस अवसर को सदैव जीवंत रखे जाने की वे मांग कर रहे हैं।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

व्यापार को भी मिली गति, देश भर में होगा 50 हजार करोड़ का व्यापार
कैट के पदाधिकारियों ने पीएम मोदी को भेजे मांगपत्र में यह इंगित किया है कि श्रीराम मंदिर के उद्घाटन और प्राणप्रतिष्ठा के कार्यक्रम ने देश भर में करीब 50 हजार करोड़ रुपयों से ज्यादा के नए व्यापार के अवसर पैदा किए हैं। जिसके चलते व्यापारियों का संगठन कैट एक जनवरी से 22 जनवरी तक हर शहर अयोध्या, घर-घर अयोध्या नाम का राष्ट्रीय अभियान चलाने जा रहा है। व्यापारी संगठन कैट इस अभियान के जरिए श्रीराम मंदिर में प्राणप्रतिष्ठा समारोह को देश के अंतिम छोर तक पहुंचाने का प्रयास करेगा।

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी सी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल का कहना है कि मर्यादा पुरूषोत्तम श्री राम निस्संदेह भारत के सबसे महान राजा हैं। उनके काल को भारत के स्वर्णिम सनातन इतिहास के महानतम कालों में से एक माना जाता है और चूंकि 22 जनवरी को श्री राम मंदिर का उद्घाटन हो रहा है, इसलिए उस दिन को राम राज्य की स्थापना का दिन मानते हुए इस दिन को राम राज्य दिवस घोषित किया जाना देशवासियों की आकांक्षाओं का सम्मान होगा।

5/5 - (1 vote)

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button