इंदौरग्वालियरजबलपुरभोपालमध्य प्रदेशराज्य

ग्वालियर संप्रेक्षण गृह से 6 बाल अपराधी फरार, तीन पर रिटायर्ड डीजीपी की नातिन की हत्या का आरोप

मध्य प्रदेश के ग्वालियर के बाल संप्रेक्षण गृह से छह बाल अपराधी फरार हो गए हैं. इन छह बाल अपराधियों में से तीन वे हैं, जिन पर रिटायर्ड डीजीपी की नातिन की हत्या का आरोप है. सभी बाल अपराधियों की तलाश में पुलिस जुट गई है. पुलिस के अनुसार, गुरुवार (25 जनवरी) की सुबह लगभग सवा नौ बजे थाटीपुर क्षेत्र में स्थित चाइल्ड ऑब्जर्वेशन सेंटर से फरार हो गए. मौके से फरार होने के लिए सभी छह बाल अपराधियों ने सुरक्षा गार्ड को चकमा देकर छह फुट ऊंची दीवार को फांदकर फरार हो गए. पुलिस के मुताबिक, फरार हुए बच्चों ने होमगार्ड जवान टीकाराम को धक्का दिया और भाग खड़े हुए. हालांकि, सुरक्षाकर्मी ने एक बाल अपराधी को दबोच लिया और वह भागने में सफल नहीं हो पाया.

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

बाल अपराधियों पर दर्ज हैं गंभीर मामले
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, जो छह नाबालिग आरोपी फरार हुए हैं, उनमें से तीन पर हत्या जैसे गंभीर आपराधिक मामले दर्ज है. फरार हुए तीन नाबालिगों पर आरोप है कि उन्होंने पूर्व पुलिस महानिदेशक सुरेंद्र सिंह यादव की नातिन की हत्या की थी. इसके अलावा एक पर मुरैना में व्यापारी की गोली मार हत्या का आरोप है, तो वहीं एक बाल अपराधी पर नाबालिग लड़की के अपहरण का आरोप है. अन्य आर्म्स एक्ट के आरोपी हैं, जिस पर हत्या के प्रयास का भी मामला चल रहा है.

एसपी ने कराया मामलाद दर्ज
फरार बाल अपराधियों को पकड़ने के लिए पुलिस बाल संप्रेक्षण गृह में लगे सीसीटीवी खंगाल रही है. इस मामले में बाल संप्रेक्षण गृह के एसपी की शिकायत पर पुलिस ने फरार सभी बाल अपराधियों पर मामला दर्ज किया है. बाल संप्रेक्षण गृह से भागनेक की खबर मिलते ही पुलिस टीम अलर्ट हो गई. दरअसल, बाल संप्रेक्षण गृह से 7 बाल अपराधियों ने भागने की कोशिश की थी, जिसमें से छह ऊंची दीवार कूदकर फरार होने में कामयाब हो गए. जबकि एक बाल अपराधी को सुरक्षाकर्मियों ने दबोच लिया है.

Rate this post

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button