ग्वालियरजबलपुरभोपालमध्य प्रदेशराज्य

खरगोन के गोगावां मेले में हादसा, झूला टूटने से 12 बच्चे घायल, संचालक फरार

खरगोन । खरगोन के गोगावां मेले में चालू झूला टूट गया। हादसे में झूले में बैठे 12 से ज्यादा बच्चे घायल हो गए। हादसे के बाद अफरा तफरी मच गई। घायलों को अस्पताल ले जाया गया है। झूला संचालक मौके से फरार हो गया है। जानकारी के अनुसार मंगलवार दोपहर करीब 3.30 पर मेले में 15 फीट ऊंचा राई झूला अचानक टूट गया। इसमें करीब 50 बच्चों सहित लोग सवार थे। अचानक झूला टूटा तो उसमें बैठे लोग घबरा गए। चीखने, चिल्लाने की आवाज पर लोग पहुंचे और बच्चों व अन्य लोगों को बाहार निकाला।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

प्रत्यक्षदर्शी और घायलों ने बताया कि लोग झूले का आनंद ले रहे थे, इसी बीच झूला टूट गया। लोगों ने बताया कि झूले में 10 डोलियां थीं। इसमें 30 से 35 लोग बैठाए जा सकते हैं, लेकिन झूला संचालक ने 50 बच्चों व लोगों को बैठाया था। झूले को चार लोग चला रहे थे। झूला टूटने के दौरान सबसे पहले उसकी साइड वाले एंगल का पहले वेल्डिंग टूटा। इसके बाद बोल्ट टूटने से झूले की डोलिया टूटने लगी। डोलियों में बैठे लोग एक दूसरे से जा भीड़े। उसमें लगभग 12 बच्चे घायल हुए। मौका पाकर झूले के संचालक भाग निकले। झूला टूटने की खबर थाने पर आम लोगों के माध्यम से दी गई। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और पूछताछ की।

मेले से आय हुई, सुविधाएं भी देना चाहिए

 

हादसे के बाद लोगों का कहना है कि मेले से ग्राम पंचायत को आय हुई है। इसके चलते यहां सुविधाएं भी देना चाहिए। मेले में हर कार्य नियमानुसार होना चाहिए। झूले संचालक को पहले ही समझाइश दी जाती तो हादसा नहीं होता। इसके अलावा सफाई और सुरक्षा व्यवस्था भी जरूरी है। यहां पुलिस की ड्यूटी होना चाहिए। साथ ही मेले में असामाजिक तत्वों पर कार्रवाई होना चाहिए।

Rate this post

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button