जबलपुरभोपालमध्य प्रदेश

यश भारत ब्रेकिंग :12 करोड़ 50 लाख रूपये की चरस नेपाल के रास्ते आ रही थी भोपाल, दो तस्कर गिरफ्तार

म.प्र.के इतिहास में अब तक की सबसे बडी (चरस) की जप्ती

 चरस तस्करी में शामिल दो अंतर्राज्यीय आरोपियो को किया गिरफ्तार ।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

 आरोपीगण सस्ते दामो पर बिहार के रास्ते नेपाल से लाते है अवैध मादक पदार्थ चरस ।

 गिरोह द्वारा कई किलो चरस भोपाल में पहले भी सप्लाई की जा चुकी है ।

 इसके पहले भी क्राइम ब्रांच भोपाल द्वारा नेपाल से लाई गई कुल 23 किलो चरस कीमती लगभग 7.60 करोड़ पकड़ी गई ।

यश भारत भोपाल । शहर में अपराध व अपराधियों पर नियंत्रण हेतु पुलिस आयुक्त भोपाल हरिनारायणाचारी मिश्र एवं अतिरिक्त पुलिस आयुक्त भोपाल अनुराग शर्मा द्वारा आरोपियों की धरपकड़ पर कार्यवाही के लिए निर्देशित किया गया ।

 

उक्त निर्देशों के अनुक्रम में पुलिस उपायुक्त श्रुतकीर्ति सोमवंशी एवं अतिपुलिस उपायुक्त अपराध शैलेन्द्र सिंह चौहान,सहायक पुलिस आयुक्त मुख्तार कुरैशी के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी थाना क्राइम ब्रांच अशोक मरावी व उनकी टीम को शहर में अवैध मादक पदार्थ तस्करो की तलाश पतारसी में लगाया था ।

क्राइम ब्रांच की टीम को विश्वसनीय मुखबिर ने थाने पर उपस्थित आकर सूचना दी की अवैध मादक पदार्थो के दो बाहरी तस्कर बडी मात्रा में अवैध रुप से मादक पदार्थ चरस लेकर अयोध्या बायपास के पास कोच फ्रेक्ट्री जंगल में बैठे है, जो किन्ही बाहरी तस्करो को चरस देने के लिये उनका इंतजार कर रहे है, उनमें से एक व्यक्ति का नाम विजय शंकर यादव है जिसका रंग गेहुँआ, नीले रंग का सफेद पट्टी वाला अपर, भूरे रंग की पेन्ट पहने तथा आँखो में पावर वाला चश्मा लगाया है तथा काले रंग का पिट्टू बैग लिये है, दूसरा व्यक्ति हरकेश चौधरी है जो साँवले रंग का दुबला पतला, काली जर्किन व नीले रंग की पेन्ट पहने है तथा अपने पास काले रंग का पिट्टू बैग लिये है ।

 

दोनो व्यक्ति बिहार के रहने वाले है । जिनके पास बैगो मे चरस रखी है जिन्हे तत्काल पकडा गया तो उनके पास से भारी मात्रा में चरस मिल सकती है, यदि समय पर नही पकडा तो वह चरस लेकर निकल जायेंगे या चरस को इधर- उधर कर देंगे। सूचना विश्वसनीय होने वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत करा कर मुखबिर द्वारा बताये स्थान अयोध्या बायपास के पास जंगल स्टेशन बजरिया भोपाल पहुँचे ।

 

जहाँ मुखबिर द्वारा बताए हुलिए के दो व्यक्ति काले रंग के पिट्टू बैग लिये दिखाई दिये जो पुलिस को देखकर भागने का प्रयास करने लगे जिन्हे पुलिस स्टाफ व गवाहो की मदद से घेरबंदी कर पकड़कर अभिरक्षा मे लेकर उनके नाम पते पूछे तो गेहुँआ रंग, नीले रंग का सफेद पट्टी वाला अपर व भूरे रंग की पेन्ट पहने तथा आँखो में पावर वाला चश्मा लगाये व्यक्ति ने अपना नाम विजय शंकर यादव पिता हजारी यादव उम्र 33 साल निवासी ग्राम शीतल बरदाहा थाना उचायकोट जिला गोपालगंज बिहार तथा साँवले रंग के दुबला पतले, काली जर्किन व नीले रंग की पेन्ट पहने व्यक्ति ने अपना नाम हरकेश चौधरी पिता सुदामा चौधरी उम्र 35 निवासी ग्राम हेम बरदाहा थाना उचायकोट जिला गोपालगंज बिहार का होना बताया अलग अलग दोनो के पास रखे काले रंग के पिट्ठू बैग के बारे मे पूछा तो स्वंय के होना बताये । आरोपी

विजय शंकर यादव के कब्जे से मिले अवैध मादक पदार्थ चरस को तौल काँटे पर तोलने पर कुल वजन 18 किलो 110 ग्राम पाया गया तथा आरोपी हरकेश चौधरी के कब्जे से मिले अवैध मादक पदार्थ चरस को तौलकाँटे पर तोलने पर कुल वजन 18 किलो 070 ग्राम पाया गया कुल मादक पादार्थ 36.18 किलो ग्राम चरस एंव दो मोबाइल फोन मिला जिसकी कुल अन्तराष्ट्रीय किमत 12 करोड़ 50 लाख रु है तथा संदेहियों द्वारा पूछताछ पर उक्त पदार्थ चरस होना स्वीकार किया । आरोपीगण का कृत्य धारा 8/20 एनडीपीएस एक्ट के तहत दण्डनीय होने से थना क्राइम ब्रांच में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया ।

*कार्यप्रणाली-* दोनो आऱोपी मूलतः बिहार के निवासी है जो पहले से ही एक दूसरे को जानते थे नेपाल बार्डर से आने वाली चरस को गिरोह के माध्यम से भोपाल तक पहुँचाते थे । नेपाल से सस्ते दामो में बिहार के तस्करो से खरीदकर भोपाल में लाखो रूपयो का मुनाफा कमाते थे । चरस तस्करी का यह काम काफी समय से चल रहा था नेपाली तस्कर से चरस लाकर भोपाल के क्षेत्रो में बड़ा मुनाफे पर देते थे सप्लाई ।

*आरोपियों की जानकारी-*

क्र नाम पता आरोपी शैक्षणिक योग्यता व्यवसाय

01-हरकेश चौधरी पिता सुदामा चौधरी उम्र 35 निवासी ग्राम हेम बरदाहा थाना उचायकोट जिला गोपालगंज बिहार 5 वी खेती

02 विजय शंकर यादव पिता हजारी यादव उम्र 33 साल निवासी ग्राम शीतल बरदाहा थाना उचायकोट जिला गोपालगंज बिहार अशिक्षित मजदूरी l

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Rate this post

Related Articles

Back to top button