देशबिज़नेस

29 फरवरी के बाद क्या बंद हो जाएगा पेटीएम? जाने किस किस पर पड़ेगा इसक गहरा असर

29 फरवरी के बाद क्या बंद हो जाएगा पेटीएम? जाने किस किस पर पड़ेगा इसक गहरा असर पेटीएम पेमेंट बैंक के खिलाफ आरबीआई की कार्रवाई से पेटीएम के यूजर्स में मच गयी है पूरी खलबली जी हाँ बड़ी संख्या में यूजर्स दूसरे ऑनलाइन पेमेंट्स ऐप का रुख कर रहे हैं। केंद्रीय बैंक ने हाल में एक आदेश में पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर कई तरह की पांबदियां लगा दी थीं, एक तरह से पेटीएम पेमेंट बैंक की सभी सेवाओं पर एक मार्च से रोक लगा दी गई है। साथ ही इसमें अभी ट्रांसफर और विड्रॉल की अनुमति होगी।

29 फरवरी के बाद क्या बंद हो जाएगा पेटीएम? जाने किस किस पर पड़ेगा इसक गहरा असर

images 2024 02 16T145709.030
29 फरवरी के बाद क्या बंद हो जाएगा पेटीएम? जाने किस किस पर पड़ेगा इसक गहरा असर

लेकिन आप 29 फरवरी से अपना पेटीएम वॉलेट या फास्टैग टॉप नहीं कर सकेंगे। अब आरबीआई के एक्शन से पेटीएम के कम ही यूजर्स के प्रभावित होने की आशंका बताई जा रही है। इसकी वजह यह है कि आरबीआई की कार्रवाई से पेटीएम यूपीआई ऐप के यूजर्स पर कोई असर नहीं होगा।

SBI WhatsApp Banking एसबीआई ने लाई व्हाट्सएप बैंकिंग सेवाएं घर बैठे पाए सारी सुविधा जाने डिटेल्स

इन यूजर्स का नहीं होगा नुकसान

आपको बता दे की पेटीएम यूपीआई ऐप के करीब नौ करोड़ यूजर्स बने हैं। इनमें से केवल 1.5 करोड़ यूनीक यूजर्स हैं। इसकी वजह यह है कि 7.5 करोड़ यूजर्स ने दूसरे यूपीआई ऐप्स भी अपने मोबाइल पर इंस्टॉल किए गए हैं। पेटीएम यूपीआई ऐप के नौ करोड़ यूजर्स में से केवल 90 लाख यानी 10 फीसदी यूजर्स का ही पेटीएम पेमेंट बैंक में अकाउंट है।

यदि आपके स्मार्टफोन में चला गया है पानी ? तो होगा इस प्रकार ठीक, जाने टिप्स 

यानी आरबीआई के एक्शन से पेटीएम यूपीआई ऐप के 8.1 करोड़ यूजर्स पर कोई असर नहीं पड़ेगा, क्योंकि उनका यूपीआई दूसरे बैंकों के अकाउंट्स से साथ जुड़ा है। आरबीआई इसी हफ्ते पेटीएम पेमेंट बैंक के बारे में एफएक्यू जारी कर सकता है। जहां तक मर्चेंट्स की बात है तो पेटीएम से जुड़े 70 फीसदी यूजर्स का पेटीएम पेमेंट बैंक में अकाउंट नहीं है।

यह भी पढ़े :-कार्यकर्ताओं में जोश फूंकने कांग्रेस का विधानसभा स्तरीय सम्मेलन आज दोपहर 2:30 बजे

Rate this post

yash bharat

Author -अपने 3 वर्षों के मीडिया करियर में नेशनल, पॉलिटिक्स, मनोरंजन, लाइफ़स्टाइल, ज्योतिष जैसी बीटों पर काम किया है और टाइम्सबुल में वो ज्योतिष और धर्म पर लिख रही है।

Related Articles

Back to top button