जबलपुरमध्य प्रदेश

विज्ञान सर्वत्र पूज्यन्ते : वैदिक युग का विज्ञान महान……पढे….पूरी खबर

 

नरसिंहपुर यभाप्र। वर्तमान युग में विज्ञान का लोकव्यापी करण हो रहा है जिससे मानव समाज नित नवीन प्रोद्यौगिकी से जुड़ रहा है। वैज्ञानिक दृष्टिकोण चहुँमुखी विकास हेतु आवश्यक है उक्ताशय के उद्गार एच.पी. कुर्मी जिला शिक्षा अधिकारी, नरसिंहपुर ने एम.आई.एम.टी. कॉलेज नरसिंहपुर द्वारा आयोजित राष्ट्रीय विज्ञान दिवस 2024 के विषय स्वदेशी तकनीकी एवं विकसित भारत में बतौर मुख्य अतिथि व्यक्त किये ।

 

कार्यक्रम के अध्यक्ष प्राचार्य डॉ. अशोक कुमार गर्ग ने रमन इफैक्ट को आज के सांइस और टेक्नालॉजी में महत्वपूर्ण बताते हुए सीखे हुए ज्ञान का सार्थक प्रयोग पर बल देेते हुये भारतीय विज्ञान की वैदिक युग से वर्तमान युग तक की विकास यात्रा वर्णन किया।

 

विशिष्ट अतिथि डॉ. विशाल मेश्राम सीनियर साइंटिस्ट एवं हेड कृषि विज्ञान केन्द्र नरसिंहपुर ने भारतीय वैज्ञानिकों के इतिहास को प्रदर्शित कर ”विज्ञान सर्वत्र पूज्यन्ते” की उक्ति का महत्व एवं वैज्ञानिक दृष्टिकोण को रेखाकिंत कर विज्ञान दिवस की प्रासंगितता से छात्र-छात्राओं को अवगत कराया। कार्यक्रम में विषय वक्ता के रूप में डॉ. पराग नेमा विभागाध्यक्ष कला एवं समाज कार्य विभाग ने विज्ञान चहुमुखी विकास पर विचार प्रकट करते हुये स्वदेशी तकनीक एवं विकसित भारत की परिकल्पना प्रदर्शित करते हुये लिटरेचर एस ए टूल टू सेव दी मदर अर्थ विषय पर अपना रिसर्च पेपर प्रस्तुत किया। शुभारंभ सत्र मे श्रीमती ऋचा पटैल ने स्वागत भाषण देते हुये कार्यक्रम उपदेयता पर प्रकाश डाला।

 

कार्यक्रम का संचालन सहायक प्राध्यपक श्रीमती आराधना दुबे एवं आभार सुश्री नंदिनी विश्वकर्मा द्वारा किया गया। इसके पूर्व कार्यक्रम का शुभारंभ सरस्वती पूजन, दीप प्रज्जवलन एवं महान वैज्ञानिक सी.वी. रमन को श्रद्धांजलि अर्पित कर किया गया। छात्रा महिमा रैकवार एवं आर्या सोनी द्वारा सरस्वती वंदना की प्रस्तुति दी गयी। अतिथियों का महाविद्यालय की ओर से स्मृतिचिन्ह एवं शॉल श्रीफल से सम्मान किया गया। कार्यक्रम के दूसरे चरण मे विज्ञान के विविध विषयों पर छात्र- छात्राओं द्वारा माडल निर्मित कर विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन किया गया ।

 

इस अवसर पर राष्ट्रीय विज्ञान दिवस कार्यक्रम के संयोजक डॉ. एस. एन. राव, विभागाध्यक्ष विज्ञान संकाय, श्रीमती अनीता रघुवंशी, अमितराज सोनी, आलोक तिवारी, डॉ. दीपिका शर्मा, जितेन्द्र सिंह, श्रीमती माधुरी पटवा, आलोक शर्मा, श्रीमती आकांक्षा नामदेव, सुश्री खुशबू निशा, इंजी. भूपेन्द्र चौधरी, फूलसिंह धानका, सुश्री प्रावी पटैल, सुश्री सपना जाटव, सुश्री राजश्री पटेल सहित एम.आई.एम.टी. स्टॉफ मेम्बर्स तथा बड़ी संख्या में छात्र/छात्राओं की कार्यक्रम में उपस्थिति रही।

 

विज्ञान प्रदर्शनी मे विशाखा पटेल बी.एस.सी. तृतीय वर्ष के स्मार्ट फार्मिंग माडल ग्रुप को प्रथम , विवेक कहार बी.एस.सी. प्रथम वर्ष के इलेक्ट्रीसिटी जनरेटेड वाय गारवेज मॉडल गु्रप को द्वितीय तथा राज साहू बी.एस.सी. द्वितीय वर्ष के आदित्य एल-1 माडल गु्रप को तृतीय पुरूष्कार तथा नेहा पटेल बी.एस.सी प्रथम के सस्टनेवल डेवेलपमेन्ट स्मार्ट सिटी माडल ग्रुप को सांत्वना पुरूष्कार के रूप मे स्मृतिचिन्ह एवं प्रशस्ति पत्र से नवाजा गया। प्रश्नमंच प्रतियोगिता में वैष्णवी कहार बी.एस.सी प्रथम वर्ष बायो को प्रथम, विशाखा पटेल बी.एस.सी. तृतीय वर्ष बायो को द्वितीय, सृष्टि पटेल बी.एस.सी. तृतीय वर्ष को तृतीय तथा अभिषेक पटेल बी.एस.सी. तृतीय वर्ष बायो को सांत्वना पुरूस्कार स्वरूप मेडल तथा प्रशास्ति पत्र प्रदान किये गये।

Rate this post

Related Articles

Back to top button