कटनीजबलपुरमध्य प्रदेश

बड़ी खबर : पत्नी ने प्रेमी एवं मुँहबोले भाई के साथ मिलकर की थी पति की हत्या

तीन आरोपी गिरफ्तार, बदेरा से ससुराल निकले युवक की मिली थी लाश 

आशीष रैकवार

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

कटनी, यशभारत। विजयराघवगढ़ थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम बंजारी खजूरी मार्ग पर सतना जिले के ग्राम धनवाही निवासी रमाकांत पटेल की नृशंस हत्या का विजयराघवगढ़ पुलिस ने खुलासा कर दिया है। युवक की हत्या उसकी पत्नी राखी पटेल ने अपने प्रेमी विनय यादव एवं मुँहबोले भाई राजकुमार पटेल के साथ मिलकर की थी। पुलिस ने मुखबिरों की सूचना पर इस वारदात को अंजाम देने वाले तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आज दोपहर पुलिस कंट्रोल रूम में एसपी अभिजीत रंजन ने पत्रकारवार्ता में इस अंधे हत्याकांड का खुलासा करते हुए जानकारी दी।

गौरतलब है कि सतना जिले के बदेरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम धनवाही निवासी 23 वर्षीय रमाकांत पटेल विगत मंगलवार की सुबह 10 बजे अपनी मोटरसाइकिल से विजयराघवगढ़ थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम देवसरी इंदौर स्थित अपनी ससुराल जाने के लिए निकला था। ससुराल पहुंचने के पहले ही शाम लगभग 4 बजे रमाकांत पटेल की लाश बंजारी खजूरी मार्ग के बीच सडक़ किनारे खेत में पड़ी पाई गई थी। युवक की लाश मिलने से समूचे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। थी। खेत में लाश पड़े होने की सूचना मिलने के बाद घटनास्थल पर पहुंची विजयराघवगढ़ पुलिस ने मौके की जांच करते हुए शव को कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम के लिए विजयराघवगढ़ हॉस्पिटल भिजवा दिया। पुलिस ने प्रारंभिक जांच के उपरांत हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी और वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में इस अंधे हत्याकांड का खुलासा कर दिया।

ससुराल नहीं जाना चाहती थी पत्नी

एसपी ने बताया कि पत्नी राखी पटेल अपने पति के साथ ससुराल नहीं जाना चाहती थी। घटना के एक दिन पहले ही पति रामाकांत पटेल ने पत्नी राखी से बात करते हुए ससुराल चलने के लिए कहा था। जिसके बाद राखी ने अपने प्रेमी विनय यादव एवं मुँहबोले भाई राजकुमार पटेल के साथ मिलकर हत्या की योजना बनाई थी।

इनकी रही भूमिका

अंधे हत्याकाण्ड का पर्दाफाश करने में निरीक्षक अनूप सिंह थाना प्रभारी विजयराघवगढ़, निरीक्षक कार्य. सुदेश समन थाना प्रभारी कैमोर, उप निरीक्षक योगेश मिश्रा, सउनि कार्य. जयराम साकेत, महिला सउनि मीना धुर्वे, प्रधान आरक्षक प्रेम पटेल, अरविंद गर्ग, मुकेश परस्ते, प्रशांत विश्वकर्मा, आरक्षक पप्पू प्रजापति, अंजनी झा, लालू यादव, अटल कुमार, हरिओम राजपूत, नीतेश सिंह, सुरेन्द्र ठाकुर, महिला आरक्षक नेहा राजपूत, आरक्षक चालक मज्जू कोल एवं ग्राम रक्षा समिति के सदस्य संजू कोल, रघुनाथ साहू, नेक सिंह की सराहनीय भूमिका रही है।

Rate this post

Related Articles

Back to top button