मध्य प्रदेश

प्रत्येक पात्र व्यक्ति तक योजनाओं का लाभ पहुंचाना यात्रा का मुख्य उद्देश्य: विधायक विश्वनाथ पटेल

 

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

नरसिंहपुर यशभारत। केंद्र शासन की योजनाओं का प्रत्येक पात्र हितग्राही तक लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से जिले के शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में निकाली जा रही विकसित भारत संकल्प यात्रा के अंतर्गत शनिवार को जिले की 6 जनपद पंचायतों की 11 ग्राम पंचायतों में शिविर आयोजित किए गए।

विकसित भारत संकल्प यात्रा के तहत जनपद पंचायत चांवरपाठा की ग्राम पंचायत करहैया बा. व छत्तरपुर में आयोजित किये गये शिविर को संबोधित करते हुये विधायक विश्वनाथ सिंह पटेल ने केंद्र एवं राज्य शासन की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि प्रत्येक पात्र हितग्राही तक इन योजनाओं का लाभ पहुँचे इसी मकसद से ये शिविर प्रदेश भर में शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में लगाये जा रहे हैं। उन्होंने नागरिकों से इन शिविरों में शामिल होने तथा योजनाओं का लाभ उठाने की अपील की। शिविरों में लगाये गये स्टालों का अवलोकन भी किया तथा देश को विकसित राष्ट्र बनाने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संकल्प को साकार करने की शपथ भी दिलाई। शिविरों में प्रचार रथ के माध्यम से लघु फिल्म प्रदर्शित कर नवाचारी योजनाओं से देश में हुये विकास से नागरिकों को अवगत भी कराया गया। शिविरों में नागरिकों का स्वास्थ्य परीक्षण भी किया गया। विकसित भारत संकल्प यात्रा के तहत शनिवार 6 जनवरी को जनपद पंचायत नरसिंहपुर की ग्राम पंचायत घाट पिंडरई व बेलखेड़ा, जनपद पंचायत गोटेगांव की ग्राम पंचायत गाडरवाराखेड़ा, जनपद पंचायत सांईखेड़ा की ग्राम पंचायत खिरिया व बम्होरीकला, जनपद पंचायत करेली की ग्राम पंचायत सासबहु व अम्हेटा, जनपद पंचायत चीचली की ग्राम पंचायत गांगई व छैनाकछार बी. और जनपद पंचायत चांवरपाठा की ग्राम पंचायत करहैया बा.व छत्तरपुर पहुंची

117 लोगों ने बताई मेरी कहानी- मेरी जुबानी

 

नरसिंहपुर यशभारत। विकसित भारत संकल्प यात्रा के दौरान शुक्रवार 5 जनवरी को जिले में 7641 लोगों ने अपनी सहभागिता दी। इस दौरान 3332 ग्रामीण महिलाओं ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया। कार्यक्रम के दौरान 117 लोगों ने मेरी कहानी- मेरी जुबानी के बताकर अन्य पात्र हितग्राहियों को भी प्रेरित किया। जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों ने 7612 ग्रामीणों को विकसित भारत संकल्प दिलाया।

कार्यक्रमों में स्वास्थ्य शिविर भी लगाये गये। इन शिविरों के माध्यम से 642 लोगों ने अपने स्वास्थ्य की जांच कराई, जिसमें 254 लोगों ने टीबी की जांच कराई। आयुष्मान भारत योजना के तहत 247 लोगों का आयुष्मान कार्ड बनाया गया। प्राकृतिक खेती करने वाले 59 किसानों ने अपने अनुभव साझा किये। प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 के तहत 103 हितग्राहियों का रजिस्ट्रेशन कराया गया। इन कार्यक्रमों के माध्यम से 29 विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया।

Rate this post

Related Articles

Back to top button