कटनीजबलपुरमध्य प्रदेश

पन्ना से आई टीम ने किया तेन्दुए की लाश का पोस्टमार्टम 

 

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

कटनी/रीठी, यशभारत। जिले के कैना वन बीट के समीप टहकारी गांव के पास खेतों के बेहद करीब पूर्ण विकसित तेंदुए का मृत शरीर पाए जाने से सनसनी फैल गई। प्राथमिक जांच में यह बात स्पष्ट नहीं हो पाई है कि तेंदुए की मौत किन परिस्थितियों में हुई है। तेंदुए की मौत को असामान्य मानते हुए वन विभाग के अधिकारी जांच के काम में जुटे हुए हैं। घटनास्थल की जांच डॉग स्कवाड से कराए जाने के बाद जबलपुर से विशेषज्ञों की टीम बुलाई गई है, जो की आज सुबह मौके पर पहुंचकर बारीकी से जांच कर रही है। इसके अलावा तेन्दुए की लाश का पोस्टमार्टम पन्ना टाइगर रिजर्व से आई टीम द्वारा किया जा रहा है। पूर्ण विकसित तेंदुए का शव पाए जाने के कारण क्षेत्र के साथ ही विभाग में भी हडक़ंप की स्थिति निर्मित है।

 

 

इस संबंध में प्राप्त जानकारी के मुताबिक रीठी क्षेत्र के कैना बीट के पास टहकारी के जंगल से दूर खेतों के पास कल 24 जनवरी की सुबह लगभग 10 बजे लोगों ने तेंदुए की लाश पड़ी देखी। खेतों के पास शव देखे जाने के बाद लोगों ने इसकी सूचना वन विभाग को दी। घटना की सूचना मिलने के बाद वन विभाग की टीम ने घटनास्थल की जांच करते हुए डॉग एस्कॉर्ट को बुलवाकर प्राथमिक जांच कराई है, लेकिन अभी भी जांच पूरी नहीं हो पाई है। घटनास्थल की जांच करने के लिए जबलपुर से विशेषज्ञों की टीम भी बुलवाई गई। प्राथमिक जांच में अभी तक तेंदुए की मौत के वास्तविक कारणों का पता नहीं लगाया जा सका है। वन विभाग के अधिकारियों का मानना है कि जब तक तेन्दुए के शव का परीक्षण नहीं हो जाता, तब तक मौत के वास्तविक कारण स्पष्ट नहीं हो सकते। जिस स्थान पर तेंदुए का शव पाया गया है, वह स्थल जंगल से काफी दूर है और खेतों से सटा हुआ है। जंगल से दूर और खेतों के पास तेंदुआ कैसे पहुंचा और उसकी मौत कैसे हुई, यह गुत्थी अभी भी सुलझाई नहीं जा सकी है। अधिकारी तेंदुए की मौत को स्वाभाविक ना मानकर जांच में जुटे हुए हैं। संभावना व्यक्त करते हुए वन विभाग के अधिकारियों ने कहा कि हो सकता है कि तेंदुआ किसी विपरीत परिस्थितियों में फंसा हो, जिसके कारण उसकी मौत हो गई हो।

इनका कहना है….

इस पूरे मामले को लेकर बातचीत करते हुए डीएफओ गौरव शर्मा ने कहा कि प्राथमिक जांच में तेंदुए की मौत कैसे हुई इसका पता नहीं चल पाया है। डॉक्टरों की टीम बुलाई जा रही है। शव परीक्षण कराने के उपरांत ही मौत के वास्तविक कारणों का पता लग पाएगा। गंभीरता पूर्वक जांच कराई जा रही है।

Rate this post

Related Articles

Back to top button