जबलपुर

अवैध उत्खनन से पलायन पर संभागायुक्त ने क्या कार्यवाही की: मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग

 

आयोग ने कमिश्नर से एक माह के भीतर प्रतिवेदन मांगा

जबलपुर,यशभारत। जबलपुर जिले के बरगी थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले आदिवासी बहुल्य मानेगांव में उत्खनन माफिया द्वारा नियम कायदों को ताक पर धरकर अरसे से अवैध उत्खनन कर रहे है। गांव के आदिवासियों की जमीनों पर स्वीकृत खदानों में पांच से बीस फीट तक की नियमानुसार खुदाई होना था, वहां सौ-सौ फीट गहरी खाईयां हो गई है। इस कारण क्षेत्रों का भूगोल बिगड़ चुका है और इससे उत्पन्न होने वाला प्रदूषण ग्रामीणों को बीमार बना रहा है। इस कारण ग्रामीणों को पलायन करना पड़ रहा है। मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग के क्षेत्रीय कार्यालय प्रभारी फरजाना मिर्जा ने बताया कि समाचार पत्रों में प्रकाशित समाचार के आधार पर मामले में संज्ञान लेकर मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग की मुख्यपीठ भोपाल में प्रकरण की सुनवाई करते हुए, अध्यक्ष मनोहर ममतानी व सदस्य राजीव कुमार टंडन ने मानव अधिकारों के हनन का मामला मानकर, कमिश्नर (राजस्व) जबलपुर सम्भाग से मामले की जांच कराकर आदिवासियों की सुरक्षा एवं गांव से पलायन रोकने के सम्बन्ध में की गई कार्रवाई और दोषी व्यक्तियों के विरूद्व की गई कार्रवाई का प्रतिवेदन एक माह में मांगा है।
००००००००
००००००००००००

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button