इंदौरग्वालियरजबलपुरदेशभोपालमध्य प्रदेशराज्य

पीएम मोदी की ‘अन्नदाताओं’ को सौगात, किसान निधि के लिए 20 हजार करोड़ जारी करने के आदेश पर किए साइन

प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के बाद पीएम मोदी ने सबसे पहला फैसला देश के किसानों के हित में लिया है। पीए मोदी सोमवार की सुबह साउथ ब्लॉक पहुंचे। यहां पहुंचते अपने तीसरे कार्यकाल के पहले दिन किसान निधि के मद में 20 हजार करोड़ रुपए जारी करने के फैसले पर साइन किए। इस फैसले से देश के 9.3 करोड़ किसानों को फायदा होगा।

अब तक 16 किस्त हो चुकी है जारी
योजना की शुरुआत के बाद से मोदी सरकार अब तक 16 किस्त जारी कर चुकी है। भारत सरकार ने 16वीं किस्त को महाराष्ट्र में आयोजित एक खास कार्यक्रम में जारी किया था। 16वीं किस्त को जारी हुए तीन महीनों से ज्यादा का वक्त बीत चुका है। ऐसे में पीएम माेदी की ओर से नए आदेश पर हस्ताक्षर किए जाने के बाद कुछ ही दिनों में नई किश्त किसानों के बैंक अकाउंट में पहुंचने की उम्मीद है।

ऐसे चेक करें… आपको लाभ मिलेगा या नहीं
अगर अपने अभी तक पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन नहीं किया है तो सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर अपना नाम जोड़ें।
पीएम किसान सम्मान निधि की वेबसाइट पर आपको आधार नंबर दर्ज करना होगा। मोबाइल नंबर से ओटीपी वेरिफाइ करने के बाद आप इसका स्टेटस पता कर सकते हैं।

क्या किसानों को KYC कराना जरूरी है? 
पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लेने के लिए नो योर कस्टमर (KYC) जरूरी हैं। ई-केवायसी के बिना इस स्कीम का लाभ नहीं मिलेगा। अगर आप योजना के लिए पात्र किसान हैं तो जल्द से जल्द ई-केवायसी कर लेना चाहिए।
इसके लिए सबसे पहले पीएम किसान सम्मान निधि की वेबसाइट पर जाएं। यहां होम पेज पर ई-केवायसी ऑप्शन पर क्लिक करें। आधार, मोबाइल नंबर और ओटीपी सबमिट करना होगा। इसके अलावा आप सीएससी सेंटर या बैंक जाकर भी केवायसी करवा सकते हैं।

लैंड सीडिंग कराना भी जरूरी?
अगर आपने फॉर्म में बैंक खाता और आधार नंबर गलत लिखा है, या फिर लैंड सीडिंग नहीं कराई है तो इन पस्थितियों में भी आपकी 17वीं किस्त अटक सकती है। ऐसे में किसानों को तहसील कार्यालय में रजिस्ट्रेशन फॉर्म, खाते की नकल एवं आधार कार्ड जमा कराना होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button