भोपाल

MP के मुख्य सचिव कोरोना संक्रमित:इकबाल सिंह बैंस की रिपोर्ट पॉजिटिव आई; 22 अप्रैल तक आ रहे थे मंत्रालय

आइसोलेशन में रहकर ही बैठकों में ले रहे हिस्सा

भोपाल।  मध्यप्रदेश के मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। वे 22 अप्रैल तक मंत्रालय आ रहे थे और मुख्यमंत्री  की लगभग सभी बैठकों में शामिल भी हो रहे थे। उन्होंने शुक्रवार को RT-PCR टेस्ट कराया था, इसलिए वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मीटिंग में शामिल नहीं हुए थे। आज उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। अब वे होम आइसोलेशन रह कर इलाज करा रहे हैं। मुख्य सचिव आइसालेशन में रहकर ही सभी बैठकों में हिस्सा ले रहे हैँ। शनिवार को भी उन्होंने फिक्की की बैठक में हिस्सा लिया।

मंत्रालय सूत्रों ने बताया कि मुख्य सचिव, मुख्यमंत्री की सभी बैठकों में शामिल हो रहे थे। हालांकि मंत्रालय में बैठकें कम हुई, लेकिन सीएम हाउस में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठकें हो रही हैं। हालांकि 23 अप्रैल को प्रधानमंत्री की वीसी में शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग मंत्रालय पहुंचे थे, लेकिन इस बैठक में मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस मौजूद नहीं थे।

5 दिन में 3 कर्मचारियों की मौत

सूत्रों ने बताया कि 5 दिन में मंत्रालय के 3 कर्मचारियों की कोरोना से मौत हो चुकी है। 20 अप्रैल को एकाउंट शाखा के दफ्तरी प्रदीप बाथम, 22 अप्रैल को लोक प्रबंधन विभाग में सहायक अनुभाग अधिकारी शीला पंजवानी और आज 24 अप्रैल को उद्योग विभाग के सहायक अनुभाग अधिकारी शेरू खान की कोरोना से मौत हो गई है।

दूसरी लहर में 60 संक्रमित

मंत्रालय में पदस्थ करीब 147 अधिकारी-कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। इसमें से 60 दूसरी लहर में फरवरी 2021 से अब तक इसकी चपेट में आ चुके हैं। इसमें प्रमुख सचिव अनिरुद्ध मुखर्जी, दीप्ति गौर मुखर्जी अन्य अफसर शामिल हैं। सरकार ने मंत्रालय में उपस्थिति 10% कर दी है, लेकिन मंत्रालय अधिकारी-कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सुधीर नायक ने कहा है कि मंत्रालय को 15 दिन के लिए बंद करना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button