देश

LG के साथ सीएम केजरीवाल की अहम मीटिंग आज, क्या दिल्ली में लगेगा लॉकडाउन? 

नई दिल्ली 
अस्पतालों में ऑक्सीजन-दवाओं की कमी के बीच संक्रमण दर 30 फीसदी तक पहुंच गई है। कोरोना के कहर से दिल्ली कराहने लगी है। आंकड़े देखें तो अन्य राज्यों के मुकाबले दिल्लीवाले सबसे तेज गति से संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं। इसपर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्य सचिव विजय देव के साथ अहम बैठक करेंगे। बैठक के दौरान दोनों शहर में कोरोना वायरस की स्थिति पर चर्चा करेंगे। साथ ही इस मीटिंग में राजधानी दिल्ली में लॉकडाउन लगाने पर विचार भी हो सकता है।

बता दें कि रविवार को राजधानी में 25462 नए संक्रमित मिले हैं। यह एक दिन में सामने आई अबतक की सबसे ज्यादा संख्या है। वहीं इस अवधि के दौरान 161 लोगों की मौत हो गई है। दिल्ली में पॉजिटिविटी की दर बढ़कर 29.74 प्रतिशत हो गई है। राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या 74,941 पर पहुंच गई है। इससे पहले शनिवार को 24,375 नए मरीज मिले थे।

वहीं, व्यापारिक संगठन कन्फेडेरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने कोरोना के बढ़ते मामालों को देखते हुए दिल्ली में 15 दिन की पूर्ण बंदी घोषित करने की मांग की है। इस संबंध में कैट ने दिल्ली के उपराजयपाल और मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है। कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया और प्रवीन खंडेलवाल ने कहा कोरोना महामारी का कहर देश भर में बहुत तेजी से बढ़ता जा रहा है। दिल्ली में यह जिस तेजी से बढ़ रहा है उसको देखते हुए तत्काल प्रभाव से पूर्ण बंदी जरूरी है। साथ ही सभी बॉर्डर पर कोरोना की जांच के सख्त इंतजाम किये जाएं, जिससे कोरोना की बढ़ती दर पर अंकुश लगाया जा सके। कैट ने कहा की इस कदम से निश्चित रूप से दिल्ली की व्यापारिक एवं आर्थिक गतिविधियां प्रभावित होंगी, लेकिन अब जान को प्रथम वरीयता पर रखना होगा।

दिल्ली में मॉल, स्पा, जिम, ऑडिटोरियम बंद रखने के निर्देश
आपको बता दें कि बीते गुरुवार को सीएम केजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ बैठक में शहर के कोविड-19 हालात पर हुई चर्चा के बाद वीकेंड कर्फ्यू की घोषणा की है। वीकेंड कर्फ्यू के दौरान मॉल, स्पा, जिम, ऑडिटोरियम आदि सब बंद रखने के निर्देश दिए। इसके अलावा बताया कि सिनेमा हॉल 30 प्रतिशत क्षमता के साथ चल सकेंगे। केजरीवाल ने एक साप्ताहिक बाजार को एक दिन में और एक जोन के हिसाब से अनुमति दी। साप्ताहिक बाजार में ज्यादा भीड़ न हो इसके लिए खास इंतजाम करने के निर्देश दिए। रेस्टोरेंट में बैठ कर खाने की इजाजत नहीं, केवल होम डिलीवरी की अनुमति है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button