भोपालमध्य प्रदेश

MP में शिक्षा विभाग ने एक और परीक्षा रद्द की:2 मई को नहीं होगा स्कॉलरशिप सिलेक्शन एग्जाम

यशभारत, भोपाल।  मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार के चलते अब एक और एग्जाम स्थगित कर दिया गया है। अब 2 मई को हाेने वाले नेशनल मींस-कम-मेरिट स्कॉलरशिप (NMMS) सिलेक्शन एग्जाम नहीं होंगे। यह फैसला शिक्षा विभाग ने लिया है। इस एग्जाम में शामिल हाेने के लिए आवेदन की तारीख भी 1 माह बढ़ा दी गई है। बता दें कि इस एग्जाम में बैठने के लिए पात्र स्टूडेंट के लिए आवेदन की अंतिम तारीख 15 अप्रैल थी, जिसे अब 15 मई कर दिया गया है।

शिक्षा विभाग के अनुसार नेशनल मींस-कम-मेरिट स्कॉलरशिप सिलेक्शन एग्जाम 2020-21 दो मई को आयोजित किया जाना था। यह परीक्षा मध्य प्रदेश के शासकीय, अनुदान प्राप्त स्कूल और नगरीय निकायों द्वारा संचालित कक्षा आठवीं के स्टूडेंट के लिए आयोजित किया जाता है। इसमें नियमित रूप से उन स्टूडेंट को बैठने की पात्रता रहती है, जिन्हें कक्षा 7वीं में न्यूनतम सी ग्रेड के अंक मिले हों और उनके अभिभावकों की सकल वार्षिक आय 1 लाख 50 हजार रुपए से अधिक नहीं है।

जानकारी के मुताबिक परीक्षा में 1 लाख से अधिक स्टूडेंट शामिल हो रहे हैं, लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण इसे फिलहाल स्थगित कर दिया गया है। राज्य शिक्षा केंद्र के अफसर ने बताया कि एग्जाम की नई तारीख बाद में घोषित की जाएगी। इसके साथ ही जो स्टूडेंट इस एग्जाम के लिए किसी कारण आवेदन नहीं भर पाए, उन्हें एक मौका और दिया जा रहा है। ऐसे स्टूडेंट अब 15 मई तक फाॅर्म भर सकते हैं।

बता दें कि यह योजना मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर स्टूडेंट के लिए वर्ष 2008 में शुरू की गई है। इसके अंतर्गत चयनित स्टूडेंट को 12 हजार रुपए के मान से कक्षा 9वीं से 12वीं तक स्कॉलरशिप (छात्रवृत्ति) दी जाती है। नियमित छात्रवृत्ति के लिए कक्षा 9वीं एवं 11वीं में न्यूनतम 55% और कक्षा 10वीं में न्यूनतम 60% अंक प्राप्त करना अनिवार्य है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button