जबलपुर

24 घंटे 7 दिनों पूछ रहे हालचाल: होमआईसलोशन मरीजों की जिम्मेदारी निगम के 120 अधिकारी-कर्मचारियों पर

यशभारत संवाददाता, जबलपुर। स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा तैयार किए गए इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर को कोरोना कंट्रोल रूम में परिवर्तित किया गया है, जहां पर संभागायुक्त बी चंद्रशेखर,कलेक्टर कर्मवीर शर्मा एवं नगर निगम आयुक्त संदीप जी आर के निदेर्शानुसार 24 घंटे 7 दिनों कार्य किया जा रहा है। कंट्रोल रूम में लगभग 45 आॅपरेटर, 57 मेडिकल स्टाफ, 10 डॉक्टर, 20 अन्य विभागों के कर्मचारी एवं पूरी टीम, मुख्य कार्यपालन अधिकारी निधि सिंह राजपूत के निर्देशन में कार्य कर रहे हैं।

इस संबंध में मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती निधि सिंह राजपूत ने बताया कि कंट्रोल रूम के द्वारा प्रतिदिन होम आइसोलेशन में रहने वाले व्यक्तियों को दो बार कॉल किया जाता है, इन व्यक्तियों से यह पूछा जाता है कि आपको बुखार, खांसी, आॅक्सीजन लेवल, सांस लेने में तकलीफ या अन्य कोई समस्या तो नहीं है। इसके अतिरिक्त उनके संपर्क में आने वाले व्यक्तियों की जानकारी, मेडिकल किट प्राप्त हुई या नहीं इसकी जानकारी ली जाती है। कोई भी व्यक्ति कंट्रोल रूम द्वारा जारी किए गए नंबर पर कॉल कर टेलीमेडिसिन की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं। जबलपुर कोरोना कंट्रोल रूम से अन्य जानकारियां जैसे कि नजदीकी फीवर क्लीनिक, वैक्सीनेशन सेंटर एवं किस सेंटर में कौन सी वैक्सीन लगाई जा रही है इसकी जानकारी दी जाती है

साथ ही सैनिटाइजेशन का कार्य हुआ है अथवा नहीं, मेडिकल किट प्रदान की गई है या नहीं ,एंबुलेंस की सुविधा, प्लाज्मा डोनेशन एवं अन्य जानकारियां भी इस सेंटर द्वारा दी जाती है।
कोरोना कंट्रोल रूम में कई कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं तथा उन्होंने वापस आकर शिद्दत से कार्य करना प्रारंभ कर लिया है। कंट्रोल रूम के द्वारा हर व्यक्ति को व्हाट्सएप के माध्यम से दवाइयों के प्रिस्क्रिप्शन कोविड-19 की गाइडलाइन संजीवनी ऐप डाउनलोड करने की विधि इत्यादि भी भेजी जा रही है ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button