जबलपुरमध्य प्रदेश

2.55 लाख रुपए लेकर निकले युवक की लाश रोड किनारे खेत में मिली, बाइक में खरोंच नहीं, थोड़ी दूरी पर दूसरी बाइक जली हालत में मिली

जबलपुर, यशभारत।  मनकेड़ी-पाटन रोड पर घर से डेढ़ किमी दूर 38 वर्षीय युवक की लाश मिलने से सनसनी फैल गई। युवक की लाश रोड किनारे खेत की ओर झाड़ियों में पड़ी थी। पास में ही उसकी बाइक पड़ी थी। कुछ दूरी पर एक और बाइक जली हालत में मिली। युवक 2 लाख 55 हजार रुपए लेकर निकला था, वो सुरक्षित मिला। युवक के घरवालों ने जहां हत्या का दावा किया है। वहीं बेलखेड़ा पुलिस इसे एक्सीडेंट बता रही है।

जानकारी के अनुसार मनकेड़ी से पिपरिया-पाटन रोड पर हिनोतिया तिराहा के पास पिपरिया कला निवासी संजय साहू (38) की सोमवार रात 9.10 बजे के लगभग संदिग्ध हालत में बेहोशी की हालत में मिला। परिजन उसे शहपुरा अस्पताल ले गए। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

केवलारी गांव गया था गेहूं बिक्री का 2.55 लाख रुपए लेने

संजय साहू की पिपरिया कला में ही क्लीनिक, किराना दुकान है। साथ ही वह गल्ला भी खरीदता था। गेहूं खरीदी के सिलसिले में वह केवलारी गांव से दो लाख 55 हजार रुपए लेकर सोमवार रात पौने आठ बजे घर को निकला था। नौ बजे के लगभग संजय साहू के पिता राजेंद्र साहू ने उसके नहीं लौटने पर केवलारी में नंदलाल को फोन किया। वहां से बताया गया कि वह एक घंटा पहले ही निकल गया था।

 

पिता खोजने निकला तो रोड किनारे पड़ा था संजय

इसके बाद पिता राजेंद्र बेटे को खोजने निकले। उधर, से पैसा देने वाला भी निकला। हिनोतिया तिराहे के पास पहुंचे तो देखा कि संजय की बाइक एमपी 20 एमटी 6607 रोड पर पड़ी थी। कुछ दूरी पर एक दूसरी बाइक पूरी तरह से जली हालत में पड़ी थी। टॉर्च लेकर खोजा तो संजय रोड किनारे खेत की ओर झाड़ी में पड़ा मिला था।
घटना से पहले कुछ लोगों से विवाद होने की बात आई सामने
क्षेत्र में दूध सप्लाई करने वाले ने बताया कि उसने संजय के साथ चार-पांच लोगों को विवाद करते हुए देखा था। इसके बाद क्या हुआ उसे पता नहीं चला। संजय के पिता राजेंद्र साहू और मां वर्षा साहू का आरोप है कि उसके बेटे की हत्या की गई है।

हत्या को एक्सीडेंट का रूप देने की कोशिश की गई है। हालांकि संजय के पास पूरे पैसे सुरक्षित मिलने से मामला उलझ गया है। यदि हत्या की गई है, तो इसकी वजह क्या हो सकती है? संजय के नाक पर चोट के निशान मिले हैं। संजय के जीजा सुंदरादेही निवासी अमित साहू ने भी हत्या की आशंका व्यक्त की है।
पत्नी गांव में ही अतिथि शिक्षक, दो बच्चे
संजय साहू की पत्नी श्वेता साहू गांव के ही शासकीय स्कूल में अतिथि शिक्षक है। उसके दो बच्चे हैं। एक पांच वर्ष का और दूसरा तीन वर्ष का बेटा है। संजय की मौत के बाद पूरे परिवार में कोहराम मचा हुआ है। संजय के बारे में गांव वालों का दावा है कि उसका किसी से कोई विवाद तक नहीं हुआ था।
15 घंटे बाद बेलखेड़ा पुलिस पहुंची
घटना सोमवार रात नौ बजे के लगभग की थी। बावजूद बेलखेड़ा पुलिस मंगलवार को सुबह 11 बजे पहुंची थी। इसके बाद मृतक की और लावारिश हालत में जली मिली बाइक को जब्त कर थाने ले गई। पुलिस ने घटनास्थल का भी निरीक्षण किया। घटनास्थल की थाने से दूरी लगभग 8 किमी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button