उत्तर प्रदेशराज्य

 हर जिलों में 200 कोविड बेड और बढ़ाएं : योगी

 लखनऊ  

उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य  अमित मोहन प्रसाद  ने कहा है कि मुख्यमंत्री  के निर्देश पर पूरे प्रदेश के सभी जिलों में कोविड बेडों की संख्या में बढ़ोतरी की जा रही है। प्रत्येक जिले को 200 कोविड बेड और बढ़ाने के लिए कहा गया है। उन्होंने बताया कि ऐसे लोग जिनकी कोविड-19 की रिपोर्ट आना बाकी है लेकिन अन्य प्रकार की जांच में कोविड लक्षण मिलने पर उन व्यक्तियों का कोविड उपचार शुरू कर दिया जाएगा। इस सम्बन्ध में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आदेश जारी कर दिया गया है। इसी तरह अस्पतालों में भर्ती कोविड-19 के मरीज के स्वस्थ्य होने पर यदि चिकित्सक आश्वस्त होते है तो मरीज को अस्पताल से घर में रहने की अनुमति दी जायेगी।

 प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से संक्रमित 30,596 नए मामले आए हैं। प्रदेश में 1,91,457 कोरोना के एक्टिव मामले में से 97,558 लोग होम आइसोलेशन में, निजी चिकित्सालयों में 3,520 लोग तथा शेष मरीज सरकारी चिकित्सालयों में इलाज भी करा रहे हैं। प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 2,11,246 क्षेत्रों में 5,44,383 टीम दिवस के माध्यम से 3,26,14,346 घरों के 15,78,27,716 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। 

 उन्होंने बताया कि प्रदेश में बड़ी संख्या में टेस्टिंग का कार्य करते हुए, टेस्टिंग की क्षमता निरन्तर बढ़ायी जा रही है। पिछले एक दिन में कुल 2,36,492 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 3,82,66,474 सैम्पल की जांच की गयी है। इसमें लगभग 93,947 सैम्पलों की जांच आरटीपीसीआर के माध्यम से की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 45 वर्ष से अधिक आयु वालों का कोविड वैक्सीनेशन किया जा रहा है।

 उन्होंने लोगों से अपील की है कि 45 वर्ष से अधिक लोगों का कोविड वैक्सीनेशन कराने में सहयोग प्रदान करें। अब तक 91,03,334 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी गयी तथा पहली डोज लेने वालों में से 16,10,320 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज दी गयी हैं। इस प्रकार कुल 1,07,13,654 वैक्सीन की डोज लगायी जा चुकी है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में अस्पतालों में कोविड-19 के उपचार के लिए प्राप्त मात्रा में उपकरण तथा मेडिसिन उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि मोहल्ला/ग्रामीण निगरानी समिति प्रदेश के बाहर से आने वाले लोगों के लिए कोविड प्रोटोकल का पालन करवाते हुए उनकी कोविड जांच करवाये। प्रदेश के बाहर से आने वाले लोग लक्षणयुक्त होने पर घर में 14 दिन तथा लक्षणविहीन वाले लोगों को 7 दिन घर में ही व्यतीत करना है। इसके अलावा यदि प्रदेश के बाहर से आने वाले व्यक्ति की कोविड टेस्ट रिपोर्ट पाजीटिव आने पर उसे आवश्यक अनुसार अस्तापल में या होम आइसोलेशन में रखा जायेगा।

श्री प्रसाद ने लोगों से अपील है कि मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करे, सैनेटाइजर व हाथ साबुन से अवश्य धोते रहे। उन्होंने बताया कि संक्रमण अभी समाप्त नहीं हुआ है इसलिए विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। टीकाकरण के बाद भी कोविड प्रोटोकाॅल का पालन अवश्य करें। अपने हाथ को साबुन-पानी से निरन्तर धोते रहें। भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें। उन्होंने कहा कि घर के बड़े-बुजुर्गों का टीकाकरण अवश्य कराएं।
 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button