इंदौरग्वालियरजबलपुरदेशभोपालमध्य प्रदेश

सीबीएसई स्कूलों को 5 जून तक रिजल्ट प्रक्रिया निपटाने के आदेश, जल्द आ सकता है 10वीं कक्षा का रिजल्ट

देश में कोरोना महामारी के विकराल रूप को देखते हुए CBSE बोर्ड ने 10 वीं की परीक्षाएं रद्द कर दी हैं। अब इन छात्रों का आकलन असेसमेंट के आधार पर होगा। बोर्ड ने आंकलन का तरीका पूरी तरह से पारदर्शी बनाया है। इसके साथ ही छात्र चाहें तो बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर आंकलन का पूरा तरीका जान सकते हैं। सभी CBSE स्कूलों को 5 जून तक 10वीं का रिजल्ट तैयार करने के आदेश दिए गए हैं। डीएनए इंडिया की खबर के मुताबिक बोर्ड 20 जून तक 10 वीं के नतीजे घोषित कर देगा। रिजल्ट तैयार करने का काम तेजी से जारी है और सभी अधिकारियों को जरूरत पड़ने पर ऑनलाइन मीटिंग करने के निर्देश दिए गए हैं।

प्रिंसिपल के साथ मिलकर 7 शिक्षक बनाएंगे रिजल्ट

CBSE बोर्ड ने सभी स्कूलों से एक कमेटी बनाने को कहा है, जिसमें प्रिंसिपल के अलावा 7 अन्य शिक्षक होंगे। यह कमेटी रिजल्ट को आखिरी रूप देगी। कमेटी के 7 शिक्षकों में से 5 स्कूल में गणित, सामाजिक विज्ञान, विज्ञान और दो भाषाओं के शिक्षक होंगे। इसके साथ ही 2 अन्य शिक्षक पड़ोसी स्कूलों से होंगे, जो रिजल्ट तैयार करने में शिक्षकों की मदद करेंगे।

किस आधार पर बन रहा है रिजल्ट

CBSE में 10वीं के छात्रों को 20 फीसदी नंबर आंतरिक मूल्यांकन से मिलते हैं, जबकि बाकी के 80 फीसदी नंबर बोर्ड परीक्षा के आधार पर दिए जाते हैं। नई व्यवस्था में 20 फीसदी अंकों का मूल्यांकन पहले की तरह किया जाएगा, जबकि बाकी के 80 फीसदी नंबर साल भर में हुए टेस्ट और अन्य परीक्षाओं के आधार पर दिए जाएंगे। सभी स्कूलों में पिछले सत्र के दौरान इंटरनल टेस्ट हुए थे। अधिकतर स्कूलों ने इनके नंबर भी बोर्ड के पोर्टल पर दर्ज कर दिए हैं। ये सभी नंबर यूनिट टेस्ट, मिड टर्म परीक्षा और प्री बोर्ड परीक्षाओं के हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button